महराजगंज: सांसद के गोद लिए गांव में विकास के नाम पर हो रहे भारी हेरा फेरी पर उठ रहे सवाल, जांच शुरू

डीएन ब्यूरो

महराजगंज में सांसद के द्वारा गोद लिए गए गांव में विकास के नाम पर भारी हेर फेर किया जा रहा है। जिसकी जांच की जा रही है। डाइनामाइट न्यूज़ की रिपोर्ट में पढ़ें पूरी खबर..


महराजगंज: महराजगंज के सांसद द्वारा गोद लिए गए आदर्श गांव, ग्राम सभा गोनहाँ के सतुहवा टोले पर विकास के नाम पर ग्राम प्रधान खुल कर हेरा फेरी कर रहे हैं और इस हेरा फेरी की वजह से नई ईंटों की जगह पुरानी ईंटो से सड़क निर्माण का कार्य किया जा रहा है। लूट का आलम यह है कि ग्राम प्रधान के द्वारा पुलिया से एक विद्यालय तक 390 मीटर लंबा व 2.20 मीटर चौड़ा जो खड़ंजा बनाया जा रहा है, वो पुरानी ईंटों से बनाया जा रहा है और उसके दोनों बॉर्डर पर नई ईंटों का प्रयोग तो किया जा रहा है, लेकिन काफी निम्न स्तर के ईंटों का। इससे ग्रामीणों में काफी आक्रोश देखने को मिल रहा है। ग्रामीणों का कहना है कि  स्टीमेट बना ही नहीं और कार्य शुरू करा दिया गया जो पूरी तरह से मनमानी है। खड़ंजे का कार्य कई दिनों से चल रहा है। 

यह भी पढ़ें: क्या महिला पत्रकार के चक्कर में अजय पाल शर्मा की हुई एसएसपी नोएडा के पद से छुट्टी?

इस मामले पर जब ग्राम प्रधान इन्द्र जीत से पूछा गया तो उन्होंने कहा कि वो काम का स्टीमेट पहले नहीं बनवाते हैं, बल्कि जब काम खत्म हो जाता है, तो उसके बाद वो उसी हिसाब से स्टीमेट बनवाते हैं। जब उनसे ये पूछा गया कि खड़ंजे का निर्माण पुरानी ईंटों से क्यों करवाया जा रहा है तो उन्होंने इसका जवाब देते हुए कहा कि ईंट देखने में गंदा लग रहा है, लेकिन पुराना नहीं है और उन्हें भट्टे के टेंडर की तरफ से पक्के ईंटों का बिल बाउचर दिया जा रहा है।

यह भी पढ़ें: हैलो.. मैं डा. अजय पाल शर्मा की गर्लफ्रैंड बोल रही हूं!

वहीं जब इस बारे में ग्राम सभा के सेक्रेटरी ओपी सिंह से पूछा गया तो उन्होंने कहा कि इसके बारे में उन्हें कोई जानकारी नहीं है। जब सेक्रेटरी के बयान से कुछ साफ नहीं हुआ तो इसके बाद खण्ड विकास अधिकारी आनन्द कुमार गुप्त से पूछा गया। उन्होंने कहा कि वो इसकी जाँच करवाएंगे और किसी भी कीमत पर गलत कार्य नहीं होने दिया जाएगा।
 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)








संबंधित समाचार