महराजगंज: कटिया डालकर बिजली पा रहे उपभोक्ता, विद्युत विभाग कुंभकरणी नींद में

डीएन संवाददाता

तेजी से बढ़ते तकनीक के इस युग में कई चीजें बदल गयी है लेकिन विद्युत विभाग अब भी पुराने ढर्रे पर चल रहा है, जिस कारण लोग कटिया डालकर बिजली का उपभोग कर रहे हैं। डाइनामाइट न्यूज की इस स्पेशल रिपोर्ट में पढ़ें एक ऐसा ही चौकाने वाला मामला..

विद्युत उपकेंद्र परतावल
विद्युत उपकेंद्र परतावल

महराजगंज: देश में दिन प्रतिदिन तकनीकी तो बढ़ रही है, लेकिन महराजगंज में बिजली पाने के लिये अभी भी कटिया व्यवस्था चल रही है। विद्युत उपकेन्द्र परतावल के दर्जनों गावों में आज भी बड़ी संख्या में लोग बिना कनेक्शन लिए बिजली का उपभोग कर रहे है। विभागीय सेटींग का आलम यह है कि उपकेन्द्र परतावल में सैकड़ों उपभोक्ता ऐसे है, जिनसे कनेक्शन के नाम पर 3500 से 4000 रुपये तक वसूले गये है, लेकिन अभी तक उन्हें ना तो रसीद मिली है और ना ही बिजली बिल आया है।

यह भी पढ़ें: महराजगंज: एसपी आरपी सिंह ने दूसरे दिन भी चलाया तबादलों का चाबुक, एक दर्जन से अधिक पुलिस वाले इधर-उधर 

गांव वाले बताते है कि कनेक्शन के लिए जब उपभोक्ता जेई कार्तिक वर्मा के पास में जाते हैं तो वह उपभोक्ताओं को लाइनमैन के पास में भेज देते हैं, लाइनमैन कागजात का हवाला देकर के लोगों से मनमाना पैसे वसूलते रहते हैं।

यह भी पढ़ें: एसपी ने किये 3 दर्जन पुलिस वालों के तबादले, मीडिया सेल के मनबढ़ इंस्पेक्टर विनोद राव को लगाया ठिकाने 

ग्रामीणों का कहना है प्रधानमंत्री द्वारा चलाए जा रहे सौभाग्य योजना में भी 500 रुपये तक की वसूली की जा रही है। ऐसे में सरकार की मंशा पर पानी फेर रहे कर्मचारी मलाई चाटने में मस्त है। श्यामदेउरवां, मुहम्मदपुर, पिपरपाती, रामपुर, गोधवल, पिपरा लाला आदि दर्जनों गावों में ऐसे सैकड़ों लोग है जो छह से आठ माह पहले ही कनेक्शन के लिए पैसा दे दिए है, लेकिन अभी तक उन्हे रसीद नही मिली है और ना ही बिजली का बिल आ रहा है।
 













संबंधित समाचार