महराजगंज: देखिये, कोरोना काल में बाहर से आये लोग किस तरह बन रहे जी का जंजाल

डीएन ब्यूरो

कोरोना काल में सुरक्षित जीवन के लिये गांवों का रुख करने वाले प्रवासी अब ग्रामीणों के लिये ही नया जी का जंजाल बन गये हैं। महराजगंज जनपद में भी कुछ इसी तरह के संकेत देखने को मिल रहे हैं। देखिये वीडियो और पढिये ये स्पेशल खबर..


महराजगंज: कोरोना की वैश्विक महामारी में सुरक्षित जीवन के लिये अपने जड़ों की ओर लौटे प्रवासियों के तौर-तरीकों से स्थानीय लोगों की परेशानी पढ़ती जा रही हैं। महानगरों और अन्य राज्यों से आये लोगों के खुलेआम घूमने से ग्रामीणों में दहशत का माहौल बनता जा रहा है। गांव लौटे प्रवासियों के तौर-तरीकों से कोरोना संक्रमण फैलने के जोखिम से स्थानीय लोगों में काफी भय है। 

कोल्हुई थाना क्षेत्र के ग्राम नौवाडीह में दूसरे प्रदेशों से आए हुए लोग गांव में बेखौफ होकर घूम रहे हैं। आइसोलेशन में रहने के बजाए ये लोग गांव में खुलेआम घूम रहे हैं, जिससे ग्रामीणों में दहशत है।

नौवाडीह गांव में मुंबई, दिल्ली आदि महानगरों से आए हुए लोगों को प्रशासन की तरफ से सख्त निर्देश गये है कि वे 21 दिन के होम क्वारेंटाइन में रहें। लेकिन बाहर से आए हुए ये लोग गांव में खुलेआम घूम रहे है, जिससे गांव के लोगों में भय का माहौल है। ग्रामीणों का कहना है कि कोई मना करता है तो ये लोग मारपीट पर उतारू हो जाते है। 

लोगो में इस बात का सबसे ज्यादा भय है कि अगर इनमें से कोई व्यक्ति संक्रमित होगा तो पूरे गांव में कोरोना संक्रमण फैल जाएगा। ग्रामीणों ने बताया कि जो लोग दूसरे प्रदेशों से आए हुए है, वे भी राशन की लाइन में बिना सोशल डिस्टेंशिंग के नजर आए हैं। जबकि इन लोगो को प्रशासन ने घर से बाहर निकलने पर मना किया हुआ है,लेकिन ये लोग मनमानी कर रहे हैं।
 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)








संबंधित समाचार