लखनऊ: प्रसव के नाम पर सरकारी अस्पताल में अवैध वसूली जारी..जांच के लिए गठित हुई टीम

डीएन संवाददाता

जहां एक ओर सरकार गर्भवती महिलाओं को मुफ्त में चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराने के लिए स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों और कर्मचारियों को लगातार सख्त निर्देश जारी कर रही है, वहीं दूसरी ओर लखनऊ के एक बड़े नामी सरकारी अस्पताल से गर्भवती महिला से अवैध वसूली की बात सामने आने से हड़कंप मचा हुआ है। डाइनामाइट न्यूज एक्सक्लूसिव..

वीरांगना झलकारी बाई महिला चिकित्सालय में प्रसव के नाम पर हो रही है अवैध वसूली
वीरांगना झलकारी बाई महिला चिकित्सालय में प्रसव के नाम पर हो रही है अवैध वसूली

लखनऊ: यूपी की राजधानी लखनऊ में सरकारी अस्पताल केंद्र और राज्य सरकार के नियमों और आदेशों का खुलेआम उल्लंघन करने में लगे हैं। जहां एक और यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ स्वास्थ सुविधाओं को आम आदमी के लिए सरल और सुलभ बनाने के लगातार निर्देश दे रहे हैं वहीं दूसरी ओर स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों पर इसका कोई असर दिखाई देता हुआ नहीं पड़ रहा है। 

ताजा मामला हजरतगंज स्थित झलकारी बाई अस्पताल का है जंहा अस्पताल के कर्मचारी मरीज के तीमारदार से जबरन वसूली पर उतारू हैं। एक महत्वपूर्ण सवाल ये भी है की जब राजधानी के सरकारी अस्पताल वसूली के अड्डे बन जाएंगे तो भला गरीब आदमी अपना इलाज कंहा करायेगा। 
 

 

डाइनामाइट न्यूज ने जब अस्पताल की सीएमएस डा सुधा वर्मा से बात की तो उन्होने बताया की पैसे लेने वाले कर्मचारियों पर जल्द कार्रवाई की जाएगी। सभी कर्मचारियों के साथ बैठक की गई है। उनको चिन्हित कर पूछताछ की जा रही है। सख्ती से निर्देश दिया  है कि आगे से ऐसी घटना न हो।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार