Lok Sabha Election: शिवराज सिंह चौहान ने दिल्ली में AAP और इंडिया गठबंधन पर किया तीखा हमला, जानिए क्या कसा तंज

डीएन ब्यूरो

मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने चुनाव प्रचार के दौरान AAP-कांग्रेस गठबंधन पर तीखा हमला किया है। पढ़िये डाइनामाइट न्यूज़ की पूरी रिपोर्ट

शिवराज सिंह चौहान ने  AAP पर कसा तंज
शिवराज सिंह चौहान ने AAP पर कसा तंज


नई दिल्ली: मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान दिल्ली में बीजेपी के लिए लोकसभा चुनाव प्रचार कर रहे हैं। चुनावी प्रचार के दौरान शिवराज अब दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के प्रमुख अरविंद केजरीवाल पर जमकर हमला बोला।

मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने रविवार को दिल्ली में AAP-कांग्रेस गठबंधन पर तीखा हमला किया और इसे 'ठगबंधन' कहा। चौहान ने AAP पर 'अहंकारी' होने का भी आरोप लगाया और इसे 'अहंकारी आदमी पार्टी' करार दिया। 

डाइनामाइट न्यूज संवाददाता के अनुसार दिल्ली की 7 लोकसभा सीटों पर 25 मई को मतदान होना है। 

पूर्व सीएम ने बीजेपी उम्मीदवारों मनोज तिवारी, योगेन्द्र चंदोलिया और कमलजीत सहरावत के समर्थन में उत्तर पूर्वी दिल्ली, उत्तर पश्चिमी दिल्ली और पश्चिमी दिल्ली लोकसभा क्षेत्रों में विभिन्न सार्वजनिक सभाओं को संबोधित करते हुए यह टिप्पणी की। 

पूर्वोत्तर दिल्ली के बुराड़ी में शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि जिस पार्टी के खिलाफ विरोध प्रदर्शन करके AAP अस्तित्व में आई, अब उसी कांग्रेस के साथ गठबंधन कर लिया। उन्होंने कांग्रेस पर राम मंदिर निर्माण से 'नाखुश' होने का आरोप लगाया और कहा कि उसने भगवान राम के प्रतिष्ठा समारोह में शामिल होने से इनकार कर दिया।

AAP को 'महिला विरोधी' पार्टी करार देते हुए चौहान ने कहा, "दिल्ली में आप और कांग्रेस ने गठबंधन बनाया है। उन्होंने उसी पार्टी से हाथ मिलाया है जिसके खिलाफ उन्होंने विरोध किया और सत्ता में आए। आप अब 'आप' बन गई है- 'अहंकारी आदमी पार्टी।' उन्हें शर्म आनी चाहिए कि उनके अपनी महिला सांसद को सीएम आवास पर अपमानित किया गया और पीटा गया।'' 

भाषण के दौरान शिवराज ने महिला सशक्तीकरण के लिए भाजपा के नेतृत्व वाले केंद्र द्वारा शुरू की गई कई योजनाओं को भी गिनाया और नरेंद्र मोदी सरकार को 'महिलाओं के प्रति सम्मानजनक' बताया। 

उत्तर पूर्वी दिल्ली से कांग्रेस उम्मीदवार कन्हैया कुमार पर 'देश-विरोधी' कहकर हमला करते हुए चौहान ने दावा किया कि उन्होंने 'भारत-विरोधी' नारे लगाए थे। उन्होंने कहा, मनोज तिवारी भारत की संस्कृति के सच्चे भक्त हैं। दूसरी ओर, कन्हैया ने भारत के टुकड़े करने की बात की। 25 मई को आपको भाजपा को जिताना है और कांग्रेस को सबक सिखाना है। 










संबंधित समाचार