दलित पैंथर कार्यकर्ताओं का तंज- ‘अच्छे दिन आ रहे, बच्चे जान गंवा रहे’

डीएन संवाददाता

गोरखपुर त्रासदी को लेकर भारतीय दलित पैंथर के कार्यकर्ताओं ने कानपुर में केंद्र सरकार और राज्य सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया और जमकर नारेबाजी भी की।


कानपुर: भारतीय दलित पैंथर के कार्यकर्ताओं ने बड़ा चौराहा स्थित राम आसरे पार्क पर गोरखपुर में हुई बच्चों की मौत को लेकर उत्तर प्रदेश सरकार को जिम्मेदार ठहराया और प्रदर्शन किया। साथ ही दलित पैंथर के कार्यकर्ताओं ने पीएम मोदी और साएम योगी के खिलाफ जमकर नारेबाजी भी की।  

सूबे की सरकार जिम्मेदार

गोरखपुर के बीआरडी कालेज में 40 से ज्यादा बच्चों की मौत के बाद देश भर में प्रदेश सरकार की कड़ी आलोचना की जा रही है। वहीं पिछले दिन भी 48 घण्टों के भीतर बीआरडी कालेज में इन्सेफलाइटिस से पीड़ित 42 बच्चों की मौत की खबर आयी। भारतीय दलित पैंथर के अध्यक्ष धनी राम के नेतृत्व में सैकड़ों कार्यकर्ताओ ने बड़े चौराहे स्थित राम आसरे पार्क पर एक जुट होकर केंद्र सरकार और उत्तर प्रदेश सरकार के खिलाफ मुर्दाबाद के नारे लगाए।

'न ऑक्सीजन न उपचार, भ्रष्ट है योगी सरकार' 

इस दौरान कार्यकर्ताओं के हाथों में स्लोगन लिखी हुई तस्वीरें दिखी, जो सूबे की सरकार की नाकामियों को बयां कर रही थी। 'अच्छे दिन आ रहे, बच्चे जान गंवा रहे', 'न ऑक्सीजन न उपचार भ्रष्ट है योगी सरकार'  जैसे स्लोगन लिए कार्यकर्ताओ ने जमकर नारेबाजी कर प्रदर्शन किया।

अब बच्चों की मौत पर हो रही सौदेबाज़ी

डाइनामाइट न्यूज से बात करते हुए दलित पैंथर के अध्यक्ष ने कहा कि गोरखपुर में जिस तरह लापरवाही के चलते मेडिकल कालेज में मासूम बच्चों की जान गई, उस हादसे के लिए  योगी सरकार जिम्मेदार है। उन्होंने कहा कि अब प्रदेश सरकार बच्चों की मौत पर भी सौदेबाज़ी कर रही है। योगी जी को अपनी नैतिक जिम्मेदारी समझते हुए तत्काल इस्तीफा दे देना चाहिए। वहीं उन्होंने कहा कि जिन बच्चों की मौते हुई हैं, उनके परिवार को उचित मुआवजा दिया जाए।

दलित पैंथर के कार्यकर्ताओं का यह भी कहना है कि चुनाव के समय सरकार ने कहा था कि अच्छे दिन आने वाले हैं, लेकिन अभी तक अच्छे दिन तो नहीं लेकिन सबसे खराब दिन आ गए हैं। इसके लिए केंद्र सरकार और उत्तर प्रदेश सरकार जिम्मेदार हैं।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)








संबंधित समाचार