जौनपुर: बिना बिजली ग्रामीणों को मिल रहा है बिजली का बिल

डीएन संवाददाता

केंद्र सरकार ने पिछले वर्ष सौभाग्य योजना शुरु की थी जिसके तहत देश के कई गाँवों तक बिजली पहुँचाई जा चुकी है। वहीं जौनपुर से खबर आई है कि कई ग्रामीणों के घरों में मीटर लग जाने के बावजूद वहाँ बिजली तो नहीं पहुँची है लेकिन बिजली का बिल पहुँच रहा है। डाइनामाइट न्यूज की एक्सक्लूसिव रिपोर्ट..


जौनपुर: देश की आज़ादी को 72 साल हो चुके हैं। देश में जहाँ मेट्रो से लेकर बुलेट ट्रेन दौड़ रही है वहीं ग्रामणों की ज़िंदगी अब भी धीमी रफ्तार से चल रही है। आज़ादी के इतने वर्ष बीत जाने के बावजूद भी वे अपना जीवन अंधेरे में गुज़ार रहे हैं। इसी को देखते हुए केंद्र सरकार ने सौभाग्य योजना शुरु की थी। उम्मीद जताई जा रही थी कि शहरों के साथ-साथ गाँवों और दूर-दराज के क्षेत्रों में भी बिजली पहुँचेगी। लेकिन ऐसा होता नहीं दिख रहा है। सौभाग्य योजना के तहत उत्तर प्रदेश के कई गाँवों में बिजली के मीटर तो लग चुके हैं लेकिन फिर भी वहाँ बिजली नहीं पहुँची है। वे पहले की तरह ही लालटेन की रोशनी से ही काम चला रहे हैं।

यह भी पढ़ें: जौनपुर: कड़ाके की ठंड में जिला हॉस्पिटल में भर्ती मरीजों के तीमारदारों का हुआ बुरा हाल.. रैन बसेरों पर लटका ताला 

बिजली का बिल दिखाते ग्रामीण

हालिया मामला जौनपुर जिले का है। यहाँ सौभाग्य यौजना के तहत अब तक दो लाख परिवारों को बिजली कनेक्शन दिए जा चुके हैं। लेकिन अब भी कई घर ऐसे हैं जहाँ अब तक बिजली नहीं पहुँची है। इनमें से कई घर ऐसे भी हैं जहाँ बिजली का मीटर तो लग चुका है लेकिन कई महीने बीत जाने के बावजूद भी बिजली नहीं पहुँची है।

यह भी पढ़ें: जौनपुर: इंटरनेट संचालक को दो अज्ञात बदमाशों ने मारी गोली, गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती 

मीटर लगाए जाने के 6 महीने बाद भी नहीं पहुँची बिजली

सौभाग्य योजना के तहत उन गरीब परिवारों को बिजली का कनेक्शन दिया जाना है जो अब भी इसकी पहुँच से वंचित हैं। इस योजना के तहत अब देश के हर गाँव के घरों में बिजली का मीटर लगाया जा रहा है। वहीं जिले के करंजकला ब्लॉक के जंगीपुर खुर्द गाँव में दर्जनभर गाँव ऐसे हैं जहाँ बिजली का मीटर अप्रैल माह में लगाया जा चुका है। मीटर लगाए जाने के 6 महीने बाद भी वहाँ बिजली तो नहीं पहुँची है लेकिन बिजली का बिल पहुँचने लगा है। गाँव के लोग हैरान और परेशान हैं कि बिना बिजली के उनके घर बिजली का बिल कैसे पहुँच रहा है! ग्रामीणों ने इस संबंध में अधिकारियों से बात करनी चाही लेकिन कोई अधिकारी उनकी सुनने को तैयार नहीं है।

इस संबंध में पूर्वांचल विद्युत निगम के अधिकारी ए के मिश्रा का कहना है कि ग्रामीणों की बिना बिजली के बिल पहुँचने की शिकायत पर कार्रवाई की जाएगी।
 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)










आपकी राय

Loading Poll …