अब हरिद्वार में खंडित की गई भीमराव आंबेडकर की प्रतिमा, ग्रामीणों में भारी रोष

डीएन ब्यूरो

शरारती तत्वों द्वारा भीम राव आंबेडकर की प्रतिमा को खंडित करने का मामले अब देवभूमि उत्तराखंड में सामने आया है। इस घटना को लेकर वहां के ग्रामीणों में भारी रोष है। डाइनामाइट न्यूज़ की इस स्पेशल रिपोर्ट में जानिये, इस पूरे प्रकरण को...

आंबेडकर की क्षतिग्रस्त प्रतिमा (फाइल फोटो)
आंबेडकर की क्षतिग्रस्त प्रतिमा (फाइल फोटो)

हरिद्वार: कुछ शरारती तत्वों ने कनखल थाना क्षेत्र के जियापोता गांव में डॉ. भीम राव अम्बेडकर की एक प्रतिमा को खंडित कर दिया है। जिसके बाद में लोगों में भारी रोष। किसी भी प्रकार विवाद होने से बचने के लिए घटनास्थल पर पुलिस बल तैनात कर दिया गया है। पुलिस मामले की जांच में जुट गयी है।

यह भी पढ़ें: सीएम त्रिवेन्द्र रावत ने पुलिस स्मृति परेड में लिया हिस्सा.. सैनिकों को दी श्रद्धांजलि 

आंबेडकर की क्षतिग्रस्त प्रतिमा (फाइल फोटो)

पुलिस के अनुसार कनखल थाना क्षेत्र के जियापोता गांव का में स्थित डॉ. भीम राव अम्बेडकर की प्रतिमा से बीती रात अराजक तत्वों ने मूर्ति से चश्मा हटा दिया। सोमवार सुबह जब लोगों की नजर आंबेडकर की टूटी प्रतिमा पर पड़ी तो लोगों का गुस्सा फूट पड़ा।

यह भी पढ़ें: फिर डोली उत्‍तराखंड की धरती, भूकंप के झटकों ने मचाई दहशत

ग्रामीणों के द्वारा इस बात की जानकारी जब स्थानीय पुलिस प्रसाशन को दी गयी। तो पुलिस ने तत्काल मौके पर पहुंचकर लोगों से जानकारी ली। पुलिस ने ग्रमीणों को आश्वासन दिलाया कि प्रतिमा को दुरूस्त करा दिया जायेगा।

इस मामले में आक्रोशित ग्रामीण पुलिस से प्रतिमा खंडित करने वाले लोंगो का पचा लगाकर उनके खिलाफ कार्यवाही करने की मांग कर हैं।
 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार