यूपी: मेडिकल-इंजीनियरिंग कालेजों में एडमिशन के नाम पर कई लोगों से लाखों की धोखाधड़ी

डीएन ब्यूरो

अगर आप भी अपने बच्चे को किसी मेडिकल और इंजीनियरिंग कॉलेज में एडमिशन दिलाने की इच्छा रखते हैं और ऐसे एडमिशन के नाम पर किसी भी तरह की ठगी का शिकार होने से बचना चाहते है तो यह खबर आपके बड़े काम की है। एक्सक्लूसिव रिपोर्ट..

आरोपों के घेरे में तौसीफ रजा
आरोपों के घेरे में तौसीफ रजा

लखनऊ: मेडिकल और इंजीनियरिंग कॉलेजों में एडमिशन दिलाने और नौकरी लगाने के नाम पर कई लोगों से लाखों रूपये की ठगी करने का मामला सामने आया है। इस मामले का मास्टर माइंड अब तक कई लोगों को लूट चुका है।

बरगदवां थानेदार घूसकांड मामले में डीजीपी मुख्यालय का बड़ा एक्शन, सीओ नौतनवा करेंगे जांच

इस शातिर का शिकार बने सुदर्शन पांडेय ने एक दर्जन से अधिक लोगों के साथ पुलिस के बड़े अफसरो के पास गुहार लगायी है और इस शातिर जालसाज को गिरफ्तार कर जेल की सलाखों के पीछे भेजने की मांग की है। 

आरोपी जालसाज का विजिटिंग कार्ड

सुदर्शन पांडेय ने डाइनामाइट न्यूज को बताया कि इस शातिर जालसाज का नाम तौसीफ रजा है, जो अब तक दर्जनों लोगों से उनके बच्चों को एडमिशन या नौकरी दिलाने के नाम पर लाखों रूपये की ठगी कर चुका है। तौसीफ रजा खुद को राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) के सांसद तारिक अनवर का करीबी और एनसीपी का नेता बताता है। अपने बड़े रूतबे और पहचान होने की बात कर तौसीफ रजा लोगों को नौकरी दिलाने और इंजीनियरिंग कॉलेजों में एडमिशन कराने का झांसा देता है। इसके नाम पर वह लोगों से लाखों रूपये की रकम वसूलता है।

DN Exclusive- डाइनामाइट न्यूज की खबर का बड़ा असर.. महराजगंज का घुसखोर डीपीआरओ सस्पेंड

मेडिकल कालेज के लेक्चरर को भी लूट चुका है यह फ्राड

तौसीफ रजा कितना शातिर है, इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि गोरखपुर मेडिकल कॉलेज के सर्जरी विभाग के लेक्चरर डॉ. ओपी सिंह भी उसकी ठगी का शिकार बन चुके हैं। डॉ. ओपी सिंह को तौसीफ रजा ने अपने जाल में फंसाकर साढे चार लाख रूपये लूटे। काफी दबाव के बाद तौसीफ रजा पैसा वापस करने को राजी हुआ और उसने डॉ. सिंह को साढे़ तीन लाख का चेक सौंपा। सेंट्रल बैंक दिल्ली ब्रांच का यह चैक आज तक कैश नहीं हुआ। सुदर्शन पांडेय से भी तौसीफ रजा ने पांच लाख रूपये की धोखाधड़ी की। 

डाइनामाइट न्यूज की खबर का एक बार फिर बंपर असर, बरगदवां का घूसखोर एसओ लाइनहाजिर, मुंशी निलंबित

सुदर्शन पांडेय का कहना है कि शातिर तौसीफ रजा गोरखपुर और आसपास के क्षेत्रों में अब तक एक दर्जन से अधिक लोगों को अपना शिकार बना चुका है। तौसीफ रजा मूल रूप से बिहार का रहने वाला है और दिल्ली में रहता है। सुदर्शन पांडेय ने आशंका जतायी कि यह शातिर यूपी के अलावा दिल्ली और बिहार में भी कई लोगों को चूना लगा चुका है। 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार