तीन साल से समाधान दिवस के चक्कर लगा रहे पीड़ित, अभी तक नहीं मिला परेशानी का समाधान

डीएन ब्यूरो

मंगलवार को जिले में समाधान दिवस के दौरान लोग अपनी परेशानियां लेकर डीएम और एसपी के पास आए थें। जहां उनकी परेशानियों को सुना जा रहा था। इसी दौरान वहां कुछ लोग ऐसे भी पहुंचे थे जिनका बीजली का बिल तो था, लेकिन बिजली का कनेक्शन नहीं है। पढ़ें डाइनामाइट न्यूज़ पर पूरी खबर..


महराजगंज: जिले में ऐसे कई गांव हैं जहां लोगों को बिजली का बिल तो ठमा दिया जाता है, लेकिन बिजली कनेक्शन का कोई अता-पता नहीं है। मंगलवार को समाधान दिवस के दिन ऐसा ही एक परिवार अपनी ये परेशानी लेकर पहुंचा था। 

यह भी पढ़ें: ‘डाइनामाइट न्यूज़ यूपीएससी कॉन्क्लेव 2019’: आईएएस परीक्षा से जुड़ा सबसे बड़ा महाकुंभ

जिला मुख्यालय से करीब 5 किलोमिटर की दूरी पर स्थित खेमपिपरा गांव के करीब दर्जन भर लोगों के घर के बिजलीं का बिल तो आता है लेकिन कनेक्शन तीन साल हो गये नहीं लगा। खेम पिपरा गांव की दर्जन भर मुस्लिम महिलाएं आज तीन सालों से समाधान दिवस की चक्कर लगा रही है। लेकिन सिर्फ समाधान दिवस की रसीद ही उन्हें मिलती है, बाकि न्याय का कुछ पता नहीं है।

यह भी पढ़ें: Crime: फिर यूपी में महिला वकील की हत्‍या, एटा में नूतन यादव के मुंह में दागी पांच गोलियां

अपनी मांगों को लेकर समाधान दिवस में पहुंची मुस्लिम महिलाएं

इन महिलाओं का कहना है कि इनके घरों में बिजली का बिल आता है लेकिन कनेक्शन नहीं है। क्योंकि जिसके जमीन के ऊपर बिजली का तार जाना है वह तार को जाने नहीं दे रहा है, महिलाओं का कहना है कि तीन सालों से समाधान दिवस का चक्कर लगा रहे हैं, लेकिन अभी तक कोई हल नहीं निकला है। पूछने पर अफसर लोग कहते है कि तुम लोगों के लिए हम मार करने जाए? इस भारी गर्मी में छोटे-छोटे बच्चों को लेकर किस कदर सिस्टम की मार झेल रही होंगी इस गांव की महिलाएं।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)










आपकी राय

Loading Poll …