कोहरे व ठंड की मार के साथ अब ट्रेनें लेट-फ्लाइट्स डाइवर्ट

डीएन ब्यूरो

दिल्ली और राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) में पड़ रही रिकॉर्ड सर्दी के बीच सोमवार को सुबह कोहरे ने समूचे इलाके को अपने आगोश में ले लिया और रेल एवं हवाई यातायात पर इसका व्यापक असर पड़ा।

फाइल फोटो
फाइल फोटो

नई दिल्ली: दिल्ली और राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) में पड़ रही रिकॉर्ड सर्दी के बीच सोमवार को सुबह कोहरे ने समूचे इलाके को अपने आगोश में ले लिया और रेल एवं हवाई यातायात पर इसका व्यापक असर पड़ा।

उत्तर रेलवे के अनुसार कोहरे की वजह से 30 रेलगाड़ियों के आवागमन पर असर पड़ा है। दूसरी तरफ इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर दृश्यता के स्तर में गिरावट के कारण तीन उड़ानों को डायवर्ट करना पड़ा है , हालांकि कोई उड़ान रद्द नहीं की गई है। सड़कों पर भी दृश्यता कम होने की वजह से यातायात प्रभावित हुआ है। सफदरजंग में सोमवार सुबह न्यूनतम तापमान 2.6 और पालम में 2.9 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है।

दिल्ली के अलावा एनसीआर के नोएडा , गुरूग्राम , फरीदाबाद और गाजियाबाद समेत अन्य क्षेत्रों में कोहरे छाया हुआ है। दिल्ली में 14 दिसम्बर से ही कड़ाके की सर्दी पड रही है। शनिवार को सुबह कुछ इलाकों में न्यूनतम तापमान दो डिग्री सेल्सियस से भी नीचे दर्ज किया गया था। रविवार सुबह सबसे कम तापमान आया नगर में 2.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। शनिवार को यहां तापमान 1.7 डिग्री सेल्सियस तक गिर गया था। दिसम्बर माह में 29 दिसंबर तक औसत तापमान 19.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है। यह स्तर 1997 के 17.3 डिग्री के बाद का सबसे कम है।

वर्ष 1901 के बाद यह दूसरा मौका है जब दिल्लीवासियों को इतने लंबे समय तक शीतलहर का प्रकोप झेलना पड़ा है। राहत की बात यह है कि स्कूलों में छोटे बच्चों के लिए शीतकालीन अवकाश शुरू हो गया है। इससे इन बच्चों को आज ठिठुरती सर्दी में स्कूल नहीं जाना पड़ा। मौसम की मार के साथ ही कुछ इलाकों में प्रदूषण का प्रकोप भी बना हुआ है। पूर्वी दिल्ली के आनंद विहार में औसत वायु सूचकांक 462 है जो ' गंभीर स्थिति' में है। (वार्ता)








संबंधित समाचार