इस बार रक्षाबंधन पर बन रहा खास योग, इस शुभ मुहूर्त में भाइयों की कलाई पर बांधें राखी

डीएन ब्यूरो

बहनों की रक्षा के लिए वचनवद्ध रक्षाबंधन का त्यौहार भारतभर में धूमधाम से मनाया जाता है। इसे मनाने को लेकर कई मान्यताएं भी है। इसलिए यह जान लेना जरूरी है कि कौन से शुभ मुहूर्त पर बहनें अपने भाइयों की कलाई पर राखी बांधे। पढ़ें डाइनामइट न्यूज की स्पेशल रिपोर्ट..

फाइल फोटो
फाइल फोटो

नई दिल्ली: भाई-बहन के अटूट प्रेम का प्रतीक रक्षाबंधन सनातन धर्मावलंबियों के चार मुख्य त्यौहारों में एक विशिष्ट स्थान रखता है, जो श्रावण पूर्णिमा के दिन मनाया जाता है। वहीं इस बार रक्षाबंधन 26 अगस्त यानी रविवार को मनाया जाएगा। बता दें कि सावन पूर्णिमा की तिथि 25 अगस्त आज 2:27 बजे लग रही है। यह 26 की शाम यानी रविवार को शाम 4:17 बजे तक रहेगी।

यह भी पढ़ें: गोरखपुर: छात्राओं ने सीमा पर तैनात सैनिक भाईयों को भेजी हाथों से बनी राखियां 

 

 

इस बार रक्षाबंधन पर खास योग बन रहा है। यह खास इसलिए भी है क्योंकि आमतौर पर सावन पूर्णिमा रक्षाबंधन आगे-पीछे भद्रा होती है। जबकि भद्रा शनिवार व रविवार को रात 3:21 बजे समाप्त हो रही है। इससे यह होगा कि बहनें अपने भाइयों के हाथों की कलाइयों पर रविवार को सुबह से शाम तक राखी बांध सकेंगी। वहीं राखी बांधने का शुभ मुहूर्त सुबह 5:40 से रात 8: 09 बजे तक रहेगा।

यह भी पढ़ें: महराजगंज: जिला जेल में बहनों ने भाइयों को बांधी राखी 

बहनें अपने भाइयों की कलाई में राखी बांधेंगी तो भाई उनकी रक्षा करने का वचन देंगे। रक्षाबंधन से एक दिन पूर्व  ही बाजार खरीदारों से गुलजार लगी हुई है साथ ही  लोग जमकर खरीदारी कर रहे हैं।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)











आपकी राय

Loading Poll …