फतेहपुर: स्वच्छता अभियान के तहत लगे कूड़ेदान औंधे मुंह गिरे, पांव पसारने लगी गंदगी

डीएन संवाददाता

जिलाधिकारी आंजनेय कुमार सिंह समेत पूरा प्रशासनिक अमला भले ही पूरे फतेहपुर को स्वच्छ बनाने में जुटा हो, लेकिन कई जगहों भारी लापरवाही के कारण उनका यह अभियान परवान नहीं चढ पा रहा है। स्वच्छता अभियान के तहत लगाये गये कूड़ेदान कई जगहों पर औंधे मुंह गिर गये है, जिस कारण वहां गंदगी फिर पांव पसारने लगी है । पढ़ें डाइनामाइट न्यूज की स्पेशल रिपोर्ट..

गंदगी का ढ़ेर और दूर गिरा कूड़ेदान
गंदगी का ढ़ेर और दूर गिरा कूड़ेदान

फतेहपुर: स्वच्छ भारत अभियान के तहत प्रशासन द्वारा जिले को लगातार स्वच्छ बनाने की कोशिशें की जा रही है लेकिन इसके बावजूद भी कई क्षेत्रों में भारी लापरवाही और जागरुकता की कमी देखी जा रही है। जिले में कई जगहों पर कूड़े-कचरे के लिये रखे गये कूड़ेदान विकलांग हो गये है, जिस कारण वहां गदंगी इधर-उधर खुले में बिखरने लगी है। जिससे विभागीय कर्मचारियों समेत स्थानीय जनता की लापरवाही उजागर हो रही है।

 

खण्ड विकास कार्यालय अमौली व ग्राम पंचायत अमौली में स्वच्छता अभियान के लिये कई तरह के अभियान चलाये गये। ब्लॉक मुख्यालय के आसपास 6 कूड़ेदान लगाये गये थे, लेकिन अब वह सभी कूड़ेदान इधर-उधर औंधे मुँह गिरे पड़े हुए हैं। सबसे बड़ी बात यह है कि यहां से हर दिन कोई कर्माचारी और अधिकारी भी गुजरते रहते हैं। सभी यहां पड़े कूड़ेदानों को देखते तो है पर कोई उनको ठीक करने की जहमत नहीं उठाता।

 

ब्लॉक मुख्यालय के गेट के आस-पास में कूड़े के बड़े-बड़े ढ़ेर लगे हुए है। कूड़ेदानों के टूट जाने से गंदगी यहां-वहां बिखरी पड़ी नजर आती है।
 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार