देवरिया: सरयू नदी ने पार किया खतरे का निशान, प्रशासन अलर्ट, ग्रामीणों में भारी दहशत

डीएन संवाददाता

लगातार हो रही बारिश के कारण सरयू नदी का ऊफान लगातार बढ़ता जा रहा है, जिस कारण कई क्षेत्रों में बाढ़ का खतरा मंडराने लगा है। प्रशासन की टीमें संबंधित क्षेत्रों का जायजा लेने में जुटी हुई है। लोगों में खासी दहशत देखी जा रही है। पूरी खबर..

सहायक इंजीनियर अशोक कुमार द्विवेदी
सहायक इंजीनियर अशोक कुमार द्विवेदी

देवरिया: जिले में लगातार हो रही बारिश के कारण सरयू नदी बरहज में खतरे के निशान से ऊपर बहने लगी है, जिस कारण कई क्षेत्रों में बाढ़ का संकट गहराने लगा है। ग्रामीणों में भारी दहशत का माहौल है। सरयू नदी के बढ़ते खतरे को देखते हुए प्रशासन स्थिति पर लगातार नजर रखे हुए है और जरूरी तैयारियों में जुट गया। गुरूवार को कई अधिकारियों ने तटीय क्षेत्रों का भ्रमण कर स्थिति का जायजा लिया।

 

 

यह भी पढ़ें: DN Exclusive: देवरिया शेल्टर होम केस में डीएम और एसपी ने किसी भी तरह की जानकारी देने से किया इंकार

सरयू नदी बरहज में खतरे के निशान 66.50 मीटर से 0.70 मीटर ऊपर बह रही है, जिससे कटिलवा, छित्तूपुर, भागलपुर बंधे, केदेवसिया गाँव कटान की चपेट में आ गये हैं। बढ़ते जलस्तर को देखते हुए ग्रामीण भारी दहशत में है।

 

 

यह भी पढ़ें: देवरिया शेल्टर होम मामले पर बोली यूपी सरकार- बालिका गृह संचालक दबंग और प्रभावशाली थे 

नदी के बढ़ते जलस्तर का जायजा लेने पहुंचे सहायक अभियंता अशोक कुमार द्विवेदी ने डाइनामाइट न्यूज से बात करते हुए बताया कि कटिलवा गाँव के निकट सरयू, घाघरा नदी कटान कर रही है। इंटर लॉकिंग रोड कटने लगा था। ग्रामीणों के घरों में दरार पड़ रही हैं। जिसे ठीक करने के लिए लगातार प्रयास किया जा रहा है। गाँव को बचाने हेतु बम्बो क्रेट, नाइलॉन क्रेट आपात कालीन बजट से कराया जा रहा है।

 

 

अधिशासी अभियंता राजेन्द्र प्रसाद ने बताया कि जल स्तर स्थिर है, संवेदनशील स्थलों पर विभाग के लोगों को तैनात कर दिया गया हैं। जिससे लोगों को किसी प्रकार की दिक्कतों का सामना न करना पड़े।
 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)










आपकी राय

Loading Poll …