DN Exclusive: आखिर क्यों बार-बार क्रैश हो रहे हैं वायुसेना के विमान, जाने इसके बड़े कारण..

डीएन ब्यूरो

भारतीय वायुसेना के फाइटर प्लेन व हेलीकॉप्टर एक के बाद एक लगातार क्रैश हो रहे हैं। इस तरह के हादसों के कारण देश को सैन्य शक्ति के रूप में भी बड़ा और ऐसा नुकसान जेलना पड़ रहा है, जिसकी भरपाई नामुमकिन है। आखिर क्यों हो रहे है ये हादसे..जाने डाइनामाइट न्यूज़ की इस एक्सक्लूसिव रिपोर्ट में..

फाइल फोटो
फाइल फोटो

नई दिल्लीः जोधपुर में इंडियन एयर फोर्स का एक लड़ाकू मिग विमान मंगलवार को क्रैश होकर जमीन पर गिरा और जलकर खाक हो गया। भारतीय वायुसेना के विमान लगातार हादसों का शिकार हो रहे हैं। लगातार हो रहे विमान हादसों के कारण बड़े जान-माल के नुकसान के अलावा सैन्य शक्ति की अपूरणीय क्षति भी झेलनी पड़ रही है। आखिर क्या है इन दिल दहला देने वाले हादसों की वजहें..जानिए डाइनामाइट न्यूज़ की इस एक्सक्लूसिव रिपोर्ट में.. 

धू-धू कर जल रहे वायुसेना के विमान को देखते लोग

MIG-27 लड़ाकू विमान क्रैश
 मंगलवार सुबह राजस्थान के जोधरपुर स्थित देवलिया गांव में उस समय अफरा-तफरी मच गई जब यहां वायुसेना का फाइटर प्लेन MIG-27 क्रैश होकर गिर गया। उड़ान भरने के 15 मिनट बाद ही विमान क्रैश हो गया। विमान क्रैश होने से पहले पायलट और को-पायलट ने खुद को इजेक्ट कर लिया, जिस वजह से दोनों की जान बच गई। हादसे के बाद विमान पूरी तरह जलकर खाक हो गया। हादसे की जांच के आदेश जारी कर दिए गए है।

यह भी पढ़ेंः राजस्थान: जोधपुर में एयर फोर्स का लड़ाकू विमान मिग 27 क्रैश, जलकर हुआ खाक


जानिए भारत में इससे पहले कब-कब हुए वायुसेना के विमान क्रैश

1. गुजरात के कच्छ में 5 जून 2018 को वायुसेना का जगुआर विमान क्रैश हो गया था। जिसमें पयालट संजय चौहान शहीद हो गए थे। यह विमान बरेजा गांव के एक खेत में क्रैश हुआ था। जहां यह विमान गिरा वहां कुछ जानवर भी इसकी चपेट में आ गए थे। तब रक्षा प्रवक्ता मनीष ओझा ने बताया था कि वायुसेना का जगुआर विमान अपने रूटीन ट्रेनिंग मिशन के दौरान जामनगर से सुबह 10:30 बजे के आसपास उड़ान भरी थी। जिसके कुछ ही देर बाद यह क्रैश हो गया था।

2. अरुणाचल प्रदेश के तवांग के नजदीक एयरफोर्स का हेलीकॉप्टर M17 V5,6 अक्टूबर 2107 को सुबह लगभग 6 बजे दुर्घटनाग्रस्त हो गया। इस हेलीकॉप्टर में आर्मी के लिए एयर मेंटेनेंस का सामान ले जाया रहा था। वायुसेना ने बयान जारी कर कहा था कि हेलीकॉप्टर रूटीन ट्रेनिंग पर था। इसमें 5 लोगों की मौत हो गई और 1 घायल हो गया था।

3. 23 मई 2017 मंगलवार को वायुसेना का युद्धक विमान सुखाई-30 एमकेआई लापता हो गया था। इस विमान का मलवा तीन दिन बाद अरुणाचल प्रदेश के घने जंगलों में बरामद किया गया था। वायुसेना ने बताया था कि इस एयरक्राफ्ट ने तेजपुर से उड़ान भरी थी। जिसमें दो पायलट सवार थे, जब यह वहां से 60 किलोमीटर उत्तर में पहुंचा ही था कि तभी रडार से इसका संपर्क टूट गया था। इसे उड़ा रहे दोनों पायलटों का कुछ पता नहीं चला था।

दुर्घटनाग्रस्त फाइटर प्लेन

4. 15 मार्च 2017 को राजस्थान में वायुसेना का सुखोई लड़ाकू विमान दुर्घटनाग्रस्त हो गया था। जिसमें सवार तीन लोग घायल हो गए थे।

5. 20 सितंबर 2014 को चंडीगढ़ में एयरक्राफ्ट ने क्रैंश लैंडिंग की वजह से विमान में आग लग गई थी।

6. वायुसेना का MIG-21 लड़ाकू विमान जम्मू एवं कश्मीर में मई 2014 को अनंतनाग में क्रैश हो गया था। इस हादसे में पायलट की मौत हो गई थी।

7. वायुसेना का C-130J सुपर हर्क्यूलिस स्पेशल ऑपरेशन ट्रांसपोर्ट ट्रेनिंग के दौरान 28 मार्च 2014 को क्रैश हो गया था। इसमें चालक दल के पांच लोगों की मौत हो गई थी।

8. 22 जनवरी 2014 को वायुसेना का जगुआर लड़ाकू जेट राजस्थान के बीकानेर जिले में क्रैश हो गया था। इसमें सवार पयालट और सह पायलट सुरक्षित निकलने में कामयाब हुए थे।

9. वायुसेना का AN-32 अरुणाचल प्रदेश में 9 जून 2009 को क्रैश हो गया था। इसमें सवार 13 सैन्यकर्मियों की मौत हो गई थी।

यह भी पढेंः मुंबई: रिहायशी इलाके में चार्टर्ड प्लेन दुर्घटनाग्रस्त, राहगीर समेत पांच लोगों की मौत

10. 20 अप्रैल 2009 को सुखोई लड़ाकू विमान राजस्थान के जैसलमेर में हादसे का शिकार हो गया था। 

11. इंदिरा गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट के पास सात मार्च 1999 में AN-32 क्रैश हो गया था। इसमें वायुसेना के 18 कर्मियों समेत 21 लोगों की मौत हो गई थी। यह ऐसा हादसा था जिसमें पहली बार वायुसेना ने इतनी ज्यादा संख्या में अपने अधिकारियों व कर्मचारियों को खोया था।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)








संबंधित समाचार