उत्तराखंड: गंगोत्री मार्ग पर भूस्खलन से 700 तीर्थयात्री मुसीबत में फंसे

डीएन ब्यूरो

उत्तराखंड में लगातार बारिश की वजह से चार धाम यात्रा बार-बार प्रभावित हो रही है। गंगोत्री मार्ग पर भूस्खलन के कारण लगभग 700 यात्री फंस गए हैं। मार्ग को खोलने के प्रयास जोरों पर जारी है। पूरी खबर..

फाइल फोटो
फाइल फोटो

देहरादून: उत्तराखंड में बारिश की वजह से गंगोत्री मार्ग पर लगातार भूस्खलन हो रहा है, जिससे यहां लगभग 700 यात्री तीर्थ मुसीबत में फंस गए हैं। भूस्खलन के कारण चार धाम यात्रा कई जगहों पर रुक गयी है और वाहनों का आवागमन बंद हो गया है। प्रशासन यात्रा मार्ग को खोलने में जुटा हुआ है। 

जानकारी के मुताबिक यह भूस्खलन उत्तरकाशी से 55 किलोमीटर दूर हुआ है। इस भूस्खलन में उत्तरकाशी के जिलाधिकारी आशीष चौहान भी इसी मार्ग पर कुछ देर के लिये फंस गए थे।

यह भी पढ़ें: देहरादून: उत्‍तराखंड में भारी बारिश से फटा बादल, कई मकान क्षतिग्रस्त 

गंगोत्री मार्ग से भूस्खलन में फैले मलबे को सीमा सड़क संगठन द्वारा लगातार हटाया जा रहा है। कोशिश की जा रही है कि जल्द से जल्द आवागमन को पहले की तरह सुचारू रूप से शुरू किया जा सके।

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड: विपक्ष का आरोप- एनएच घोटाले की जांच प्रभावित कर रही है सरकार

एसडीएम देवेंद्र सिंह नेगी के नेतृत्व में एक टीम का गठन किया गया है। तीर्थ यात्रियों को भविष्य में उचित मदद के उद्देश्य से इस मार्ग पर एक शिविर का निर्माण करने का निर्देश दिया गया है। इस शिविर में मुसीबित में फंसे कांवड़िये या तीर्थ यात्री शरण ले सकेंगे।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)