न्‍यूजीलैंड हमला : नस्‍लीय हिंसा भड़काने के आरोप में युवक गिरफ्तार, कोर्ट में किया गया पेश

डीएन ब्यूरो

अल नूर मस्जिद में गोलीबारी के वक्त बांग्लादेश की क्रिकेट टीम मस्जिद में मौजूद थी, लेकिन वह सुरक्षित बच निकलने में कामयाब रही थी।

फाइल फोटो
फाइल फोटो

क्राइस्‍टचर्च: न्‍यूजीलैंड के क्राइस्‍ट चर्च की दो मस्जिदों में हमले के बाद 18 साल के एक युवा को शनिवार को नस्‍लीय हिंसा भड़काने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। 

हालांकि अभी तक यह स्‍पष्‍ट नहीं हो पाया है कि गिरफ्तार किया गया युवक शुक्रवार को हुए हमले से कैसे जुड़ा है। युवक को न्‍यूजीलैंड के मानवाधिकार कानून के तहत आरोपी बनाया गया है। उसे 18 मार्च को क्राइस्टचर्च डिस्ट्रिक्ट कोर्ट में पेश किए जाने की बात सामने आई है।

न्यूजीलैंड की मस्जिद में ताबड़तोड़ फायरिंग..कई लोगों की मौत

युवक पर आरोप है कि उसने न्यूजीलैंड में लोगों के खिलाफ रंग, नस्ल, जातीय और राष्‍ट्रीयता के आधार पर भड़काऊ सामग्री को सोशल साइट पर शेयर किया था। इसके लिए उस पर अधिकतम 700 न्‍यूजीलैंड डॉलर का जुर्माना लगाया जा सकता है।

गौरतलब है कि न्यूजीलैंड में क्राइस्टचर्च की दो मस्जिदों में शुक्रवार को हुई गोलीबारी में कम से कम 49 लोगों की मौत हो गई और 20 से अधिक लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। आरोपी युवक को पकड़ लिया गया था।

आरोपी को शनिवार को अदालत में पेश किया गया है। आरोपी ब्रेंटन हैरिसन की पहचान ऑस्ट्रेलियाई नागरिक के रूप में हुई थी। कोर्ट ने उसकी बिना कोई दलील सुने उसे  5 अप्रैल तक के लिए हिरासत में भेज दिया गया है।

9 भारतीय लापता 
न्यूजीलैंड में भारत के उच्चायुक्त संजीव कोहली ने 9 भारतीयों के लापता होने की बात कही है। उन्‍होंने ट्वीट कर बताया था कि कई सारे सूत्रों से मिल रही जानकारी के मुताबिक भारतीय मूल के 9 लोग लापता हैं। इसकी आधिकारिक पुष्टि होनी अभी बाकी है। हमारी संवेदना इस घटना में मारे  गए लोगों के परिजनों के साथ है।

न्यूजीलैंड की मस्जिद में ताबड़तोड़ फायरिंग..कई लोगों की मौत 

जानकारी दे दें कि न्‍यूजीलैंड में तकरीबन दो लाख भारतीय और भारतीय मूल के लोग रहते हैं। भारतीय उच्च आयोग के आंकड़ों के अनुसार इस देश में 30 हजार से अधिक भारतीय छात्र हैं।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार