दो युद्धपोत तैनात करने की फ़िराक़ में ब्रिटेन, ये हैं वजह

डीएन ब्यूरो

ब्रिटेन ने कहा है कि वह शीर्ष ईरानी सैन्य कमांडर कासिम सलुेमारी के मारे जाने के मद्देनजर पश्चिम एशिया में बढ़ते तनाव के बीच ब्रिटेन के जहाजों और नागरिकों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए दो युद्धपोतों को हरमूज जलडमरूमध्य में भेजेगा।

फाइल फोटो
फाइल फोटो

लंदन: ब्रिटेन ने कहा है कि वह शीर्ष ईरानी सैन्य कमांडर कासिम सलुेमारी के मारे जाने के मद्देनजर पश्चिम एशिया में बढ़ते तनाव के बीच ब्रिटेन के जहाजों और नागरिकों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए दो युद्धपोतों को हरमूज जलडमरूमध्य में भेजेगा। ब्रिटेन के रक्षा मंत्री बेन वालेस ने शनिवार देर रात कहा मैंने एचएमएस मोंट्रोस और एचएमएस डिफेंडर को हरमूज जलडमरूमध्य में रेड एनसाइन शिपिंग के साथ तैनाती का निर्देश दिया है। सरकार इस समय हमारे जहाजों और नागरिकों की सुरक्षा के लिए सभी आवश्यक कदम उठाएगी।

यह भी पढ़ें: ट्रंप ने दिया सुलेमानी को मारने का आदेश, पेंटागन खाड़ी में बढ़ा तनाव

उन्होंने कहा कि शुक्रवार को उन्होंने अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो के साथ इस क्षेत्र की स्थिति पर चर्चा की थी। उन्होंने कहा कि हाल के महीनों में इराक में तैनात अमेरिकी बलों ने ईरान समर्थित लड़ाकों पर कई बार हमले किये हैं। उन्होंने कहा कि जनरल सुलेमानी पड़ोसी संप्रभु राष्ट्रों को कमजोर करने और ईरान के दुश्मनों को निशाना बनाने की योजनाओं के केंद्र में थे। अमेरिका ने सुलेमानी को बगदाद में शुक्रवार तड़के हवाई हमले में मार दिया था।

यह भी पढ़ें: डोनाल्ड ट्रंप ने कहा प्रो-गन कानून ने बचाई 240 लोगों की जान

गौरतलब है कि ईरान में पिछले साल हरमूज जलडमरूमध्य में दो टैंकरों को जब्त कर लिया था जिनमें से एक लाइबेरिया और दूसरा ब्रिटेन का था। जहाजों को बाद में छोड़ दिया गया था लेकिन इस घटना से क्षेत्र में पहले से ही बनी तनाव की स्थिति और गंभीर हुई थी। (वार्ता)

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)








संबंधित समाचार