यूपी में प्राविधिक शिक्षा की गुणवत्ता और मांग दोनों बढ़ी हैं: आशुतोष टंडन, प्राविधिक शिक्षा मंत्री

डीएन ब्यूरो

यूपी के प्राविधिक शिक्षा मंत्री आशुतोष टंडन ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर अपने विभाग की उपलब्धियां बताई। उन्होनें कहा की प्रदेश में सरकार जबसे भाजपा सरकार बनी है, तब से प्राविधिक शिक्षा विभाग के सामने कई चुनौतियां थी। मगर अब प्राविधिक शिक्षा की गुणवत्ता और मांग दोनों बढ़ी है। पढ़ें डाइनामाइट न्यूज़ की खास खबर..


लखनऊ: प्रदेश के प्राविधिक शिक्षा मंत्री ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर अपने विभाग की उपलब्धियां बताई। उन्होनें विभाग की कई चुनौतियों को गिनाते हुए कहा की हमारे गवर्नमेंट इंजीनियरिंग कॉलेज में फैकल्टी की कमी थी। मगर अब 280 से अधिक शिक्षकों का चयन पूरी ईमानदारी के साथ किया गया है। इसमें हमें गुणवत्ता प्राप्त शिक्षक मिले हैं और अधिकांश उसमें पीएचडी हैं। वहीं इन्फ्रास्ट्रक्चर में जो कमी थी। उसे भी दूर किया गया है।

यह भी पढ़ें: महराजगंज: राइस मिल मालिक पति पत्नी की निर्मम हत्या का आरोपी बेटा गिरफ्तार, कैसे और क्यों किया हत्या सुनिए आरोपी की जुबानी

साथ ही जो भी छात्रों के लिए रोजगार की व्यवस्था भी की जा रही है। इसके लिये कैंपस प्लेसमेंट की भी व्यवस्था की जा रही है। हमने विगत वर्ष में 50 से अधिक प्लेसमेंट ड्राइव किये हैं। जिसमें देश की बड़ी कंपनियां आई और 1500 से अधिक छात्रों को उन्होंने नौकरी उपलब्ध कराई गई है। 5000 से अधिक छात्रों को कैंपस सिलेक्शन के द्वारा जॉब उपलब्ध कराई गई है। शिक्षा की गुणवत्ता बढ़ाने के लिए नेशनल बोर्ड आफ एक्रीडिटेशन से राजकीय अनुदानित उच्च शिक्षण संस्थानों में एडमिशन करवाने के लिए प्रयास किए जा रहे हैं।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)













संबंधित समाचार