बलरापुर: एनडीआरएफ टीम ने छात्रों समेत स्कूल प्रबंधन को दिये बाढ़ व आपदा में बचाव के टिप्स

डीएन ब्यूरो

जिले में बारिश के कारण बाढ़ की बढ़ती आशंकाओं के बीच एनडीआरएफ की टीम ने उतरौला तहसील के मोहम्मद यूसुफ इंटर कॉलेज में जाकर छात्रों को आपदा से बचाव के टिप्स दिये। स्कूल सेफ्टी कार्यक्रम में छात्रों ने बढ़ चढ़कर भाग लिया । पूरी खबर..

आपदा में बचाव के गुर सीखते छात्र
आपदा में बचाव के गुर सीखते छात्र

बलरामपुर: एनडीआरएफ टीम द्वारा उतरौला तहसील के मोहम्मद यूसुफ इंटर कॉलेज में बाढ़ व आपदा में राहत एवं बचाव विषय पर एक सामुदायिक जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया, जिसमें छात्रों को आपदा के दौरान बचाव के गुर सिखाये गये। स्कूल सेफ्टी कार्यक्रम के तहत आयोजित इस जागरूकता कार्यक्रम में एनडीआरएफ ने प्रशासनिक अधिकारियों व कर्मियों के संग पूरे विद्यालय प्रबंधन व सभी विद्यार्थियों को आपदा का प्रशिक्षण दिया गया। 

 

एनडीआरएफ की भूमिका व कार्यशैली

इस दौरान टीम ने सर्वप्रथम एनडीआरएफ की भूमिका व कार्यशैली से स्कूली छात्रों को अवगत कराया गया। इसके बाद अलग-अलग तरह की आपदाओं में बचाव के लिये की जाने वाली कार्यवाही तथा स्वयं को सुरक्षित करने को जानकारी दी गयी। बाढ़ के अलावा भूकंप में राहत औऱ बचाव की भी छात्रों को जानकारी दी गयी।  

आपदा के दौरान काम आने वाली चीजें

इस मौके पर टीम ने बाढ़ से निपटने के दौरान घरेलू सामग्रियों जैसे बोटल, सूखे नारियल, केन इत्यादि से लाइफ जैकेट बनाना भी सिखाया। इसके अलावा बम्बू से बम्बू राफ्ट, मटका राफ्ट, केले के तने से राफ्ट, चारपाई राफ्ट तैयार करने औऱ कंबल व चादर से इम्प्रोवाइज स्ट्रेचर तैयार करने, घायल व्यक्ति को एक स्थान से दूसरे स्थान पर ले जाने के तरीके भई समझाये गये। इसके अलावा छात्र -छात्राओं को बल्ड कंट्रोलिंग, ह्रदयघात या डूबे व्यक्ति के दिल को पुनर्जीवित करने के लिए सीपीआर देने का तरीका भी बताया गया। 

 

 

इस दौरान उतरौला के एसडीएम जग प्रसाद सिंह, तहसीलदार शेख मलिक आलमगीर, एनडीआरएफ टीम के कमांडर अब्दुलाह खा, उपकमांडर राजेश कुमार अन्य प्रशासनिक कर्मी, विद्यालय प्राचार्य अब्दुल हासिम खा, शिक्षक, विद्यालय के बच्चे व एनडीआरएफ की पूरी टीम मौजूद रही। 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)








संबंधित समाचार