बलरामपुर: शव दफ़नाने को लेकर गांव के दो पक्षों में जमकर विवाद

डीएन संवाददाता

थाना कोतवाली उतरौला के चौकी महादेइया के ग्राम पटियाला ग्रिन्ट में शव दफ़नाने को लेकर गांव के दो पक्षों में जमकर विवाद हो गया मौके पर पंहची पुलिस-पीएससी बल की मौजूदगी में किया गया अंतिम संस्कार। पूरी खबर....

मौके पर मौजूद भीड़
मौके पर मौजूद भीड़

उतरौला(बलरामपुर): उतरौला के चौकी महादेइया के ग्राम पटियाला ग्रिन्ट के मौजा भटपुरवा में शव को दफ़नाने को लेकर गांवों के ही दो पक्षों में विवाद हो गया। पुलिस व पीएससी बल के पंहुचने पर शव का अंतिम संस्कार किया गया। एहतियात के लिए पांच लोगों को हिरासत में ले लिया गया है।

थाना कोतवाली उतरौला के चौकी महादेइया के ग्राम पटियाला ग्रिन्ट के मौजा भटपुरवा निवासी बिक्री (60) पुत्र तरसुब की शुक्रवार की शाम को मृत्यु हो गयी थी। जिसके अंतिम संस्कार के लिये शनिवार को सुबह अंतिम संस्कार के लिए शमशान स्थल पर में परिवार वालों ने क़ब्र खोदना चाहा, लेकिन गांवों के ही कुछ लोगों ने इसका विरोध किया। जिससे दोनों पक्षों में कहासुनी हुई।

ग्राम प्रधान व संभ्रांत व्यक्तियों ने काफी समझाया बुझाया, लेकिन मामला शांत नही हो सका। स्थिति को बिगड़ता देख लोगों ने इसकी सूचना चौकी व कोतवाली में दे दी।

सूंचना मिलते ही कोतवाल संतोष सिंह व चौकी प्रभारी अशिवनी कुमार दुबे अपने दल बल के साथ मौके पर पंहुचे। भीड़ व स्थिति को देख कर कोतवाल ने पीएसी बुला लिया। अंतिम संस्कार का विरोध कर रहे लोगों में से पांच लोगों को हिरासत में लेकर कोतवाली भेज दिया गया।

जबकि जानकारों की माने तो भले ही उतरौला पुलिस ने दबाव में शव का अन्तिम संस्कार करवा दिया हो लेकिन कार्यवाही न होने से मामला अभी शान्त होना दिख नही रहा है।
 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)













संबंधित समाचार