गोरखपुर गोलीकांड: बच्‍चे का इलाज तो ठीक लेक‍िन पुल‍िस कार्रवाई में क्‍यों लापरवाह

डीएन ब्यूरो

आज से 11 दिन पहले यूपी के गोरखपुर निवासी नाबालिग अरविंद चौहान को गोरखपुर के गैलेंट इस्पात लिमिटेड के मालिक चंद्र प्रकाश उर्फ चंदू अग्रवाल के निजी सुरक्षा गार्ड संदीप सिंह ने गोली मार दी थी। भले ही व्‍यापारी ने बच्‍चे को इलाज के लिए अस्‍पताल भेज दिया हो लेकि‍न मामले में पुलिस तेजी के साथ काम करती नहीं दिख रही है। डाइनामाइट न्‍यूज़ पर पढ़ें पूरी खबर..

अपोलो अस्‍पताल, लखनऊ।
अपोलो अस्‍पताल, लखनऊ।

लखनऊ: गोरखपुर जिले के गोरखनाथ थाना क्षेत्र निवासी अरविंद चौहान आज भी लखनऊ के अपोलो अस्पताल में डॉक्टरों की निगरानी में अपना इलाज करा रहा है। अरविंद के परिजनों में अभी भी मायूसी है और वह अरविंद के जल्द स्वस्थ होने की प्रार्थना लगातार ईश्वर से कर रहे हैं।

 गौरतलब है की मामले में आरोपी गार्ड संदीप सिंह ने कई दिन फरार रहने के बाद गोरखनाथ थाना पुलिस के सामने सरेंडर कर दिया है। मगर मामले में पुलिस अभी भी घटना के मुख्य सूत्रधार चंद्र प्रकाश अग्रवाल को पूछताछ तक के लिए नहीं बुला पाई है। पुलिस सूत्रों की माने तो चंद्र प्रकाश अग्रवाल को बचाने में गोरखपुर की पुलिस पूरी मुस्तैदी से लगी है।

सूत्रों से प्राप्‍त जानकारी के अनुसार व्यापारी चंद्र प्रकाश अग्रवाल अपने पैसे के दम पर पुलिस और प्रशासन को मैनेज करने में लगे हैं। इससे पहले भी जब मामले में बवाल मचा तब उन्होंने पीड़ित नाबालिग छात्र अरविंद चौहान का अपने खर्चे पर इलाज कराने की बात कही थी। उसका अभी भी लखनऊ के अपोलो अस्‍पताल में इलाज चल रहा है। 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार