पीएम मोदी ने काशी की जनता को दिया करोड़ों की योजनाओं का तोहफा

डीएन ब्यूरो

दो दिवसीय दौरे पर अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी पहुंचे पीएम मोदी ने अपने जन्म दिन के अगले दिन काशी की जनता को करोड़ों रूपये की कई योजनाओं की सौगात दी। इस मौके पर जनता को संबोधित करते हुए पीएम ने कई बातें कही और घोषणाएं की। डाइनामाइट न्यूज़ की स्पेशल रिपोर्ट

रिमोट कंट्रोल से योजनाओं का शुभारंभ करते पीएम मोदी
रिमोट कंट्रोल से योजनाओं का शुभारंभ करते पीएम मोदी

वाराणसी: अपने जन्मदिन के मौके पर दो दिवसीय दौरे पर अपने संसदीय क्षेत्र पहुंचे पीएम पीएम मोदी ने काशी की जनता को 557 करोड़ रुपये की योजनाओं का गिफ्ट दिया। पीएम मोदी ने बीएचयू में कई योजनाओं का शिलान्यास और लोकार्पण किया। इस मौके पर पीएम मोदी के साथ यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष महेन्द्र नाथ पाण्डेय समेत कई नेता भी उपस्थित रहे।

इस मौके पर सभा को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि जब वह सांसद थे, तब भी वह यहां आते थे और वाराणसी की समस्याएं उनको चितिंत करती थी। खासकर शहर भर में लटके हुए बिजली के तार शहर की शोभा को खराब करते थे, लेकिन अब शहर को बिजली के लटकते हुए तारों से निजात मिलने के साथ ही वाराणसी में वर्ल्ड क्लास का इंफ्रास्ट्रकचर तैयार हो चुका है। कई योजनाओं को धरातल पर उतारा जाना बाकी है। 

पीएम मोदी ने कहा कि वाराणसी में विश्वस्तर की सड़के बनाई जा रही है। रिंग रोड का कार्य भी जल्द पूरी होगा। पंचकोशी मार्ग का भी जारी है। सड़कों के जाल से लोगों को जाम से मुक्ति मिलेगी। वाराणसी से रेल कनेक्टविटी में बढ़ोत्तरी की गयी है। कई नई गाड़ियां यहां से शुरू की जा चुकी है। काशी में सीएनजी से गाड़ी चलाने की योजना पर काम किया जा रहा है।

पीएम मोदी ने कहा कि वाराणसी में क्रूज की सवारी भी शुरू की गयी है। हर दिशा में काम किया जा रहा है। काशी अब एक विश्वविख्यात शहर के रूप में तेजी से तब्दील हो रही है। काशी अब एलईडी से जगमगा रही है। काशी के आसपास के गांवों को भी भरपूर बिजली मिल रही है। 

पीएम मोदी ने कहा कि जनवरी में काशी में विदेशों में रहने वाले भारतीयों का जमावड़ा लगने वाला है। इस बार प्रवासी भरतीय सम्मेलन के लिये काशी को चुना गया है। इसके लिये भारत सरकार यूपी सरकार के साथ मिलकर काम कर रही है। लेकिन काशी की जनता के सहयोग के बिना यह बड़ा काम संभव नहीं हो सकता है, इसलिये हर काशी वासी को इस काम में आगे आने होगा। 
 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार