काशीः राजेंद्र प्रसाद घाट में अद्भुत रहा छठ का नजारा.. व्रतियों ने उदयमान सूर्य को दिया अर्घ्य

डीएन संवाददाता

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में छठ पर राजेंद्र प्रसाद घाट में अनूठा संगम दिखाई दिया। यहां सुबह 4 बजे से ही श्रद्धालु जुटने शुरू हो गये थे। व्रतियों ने सूर्योदय के समय उदयमान सूर्य को अर्घ्य देकर परिवार और समाज में सुख-शांति की कामना की। डाइनामाइट न्यूज़ की रिपोर्ट में पढ़ें काशी में किस तरह मनाया गया छठ


वाराणसीः प्रधानमंत्री के संसदीय क्षेत्र काशी में आस्था का महापर्व छठ बड़े ही धूमधाम से मनाया गया। यहां के प्रसिद्ध राजेंद्र प्रसाद छठ घाट में प्रशासन ने व्रती महिलाओं व पुरुषों के लिये खासतौर पर तैयारियां की थी। प्रशासन के बेहतर इंतामाजात और लोगों के भरपूर सहयोग से यहां घाट में सुबह 4 बजे से ही व्रतियों का हुजूम उमड़ पड़ा।    

   यह भी पढ़ें: महापर्व छठः काशी के घाटों में दिखा अद्भुत नजारा.. अस्ताचलगामी सूर्य को कुछ इस तरह दिया गया ‘अर्घ्य’ 

 

उनके साथ उनके सगे-संबंधी और परिजन में घाट में छठ माई में चढ़ने वाला प्रसाद अपने साथ यहां लाये। इसी के साथ संतान की रक्षा के लिए भगवान सूर्य की उपासना का महापर्व छठ गंगा की गोद में उदयीमान सूर्य को अर्घ्य देने के साथ ही संपूर्ण हो गया।    

यह भी पढ़ें: इन योजनाओं से होगा काशी का कायाकल्प.. PM मोदी ने किया लोकार्पण

 

व्रतियों ने पूरे विधि-विधान से सप्तमी को प्रातः पुनः षष्ठी की संध्या की ही तरह पूर्ववत उन्हीं निश्चित स्थानों पर पानी के किनारे खड़े होकर उदीयमान सूर्य को अर्घ्य देकर व्रती महिलाओं ने अपने व्रत अनुष्ठान को पूर्ण किया। व्रतियों ने भगवान भास्कर और छठी मैया से उनके घर आंगन को एक अलौकिक रोशनी और खुशहाली से भरने के लिये काशी के राजेन्द्र प्रसाद घाट पर उदयमान सूर्य को अर्घ्य देकर छठी मैया से मनोकामनायें की और सभी के परिवार में सुख-शांति की कामना की। 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार