उत्तराखंड: पवित्र तीर्थ हेमकुंड साहिब में अभी भी बर्फ की चादर, जानिये कब खुलेंगे कपाट

डीएन ब्यूरो

देवभूमि उत्तराखंड के हिमालयी क्षेत्र में स्थित पवित्र तीर्थ हेमकुंड साहिब अभी भी बर्फ की चादर ओढे हुए है। जानिये, कब खुलेंगे यहां के कपाट..

पांच फीट की बर्फ जमी है पूरे क्षेत्र में
पांच फीट की बर्फ जमी है पूरे क्षेत्र में

गोपेश्वर (चमोली): देवभूमि उत्तराखंड के हिमालयी क्षेत्र में स्थित पवित्र हेमकुंड साहिब में अभी भी पांच फीट तक बर्फ जमी हुई है। समुद्रतल से 15225 फीट की ऊंचाई पर स्थित इस पवित्र धाम में अभ भी भारी बर्फ जमी होने के वजह से तीर्थ के कपाट खोलने पर कोई विचार नहीं हो सका है। हालांकि इस बार कोरोना के अलावा देर तक बर्फ जमी होने के कारण धाम के कपाट खोलने को लेकर कोई निर्णय नही हो सका है। समझा जाता है अगले कुछ दिनों में इस शीघ्र निर्णय लिया जायेगा। 

हेमकुंड साहिब के मैनेजमेंट ट्रस्ट की टीम ने बताया कि प्रबंधन से जुड़ी टीम शीघ्र यहां अवलोकन के लिए पहुंच रही है, ताकि फैसला लिया जा सके कि धाम के कपाट कब खोले जाने हैं। हेमकुंड साहिब ट्रस्ट के सेवा सिंह के हवाले से बताया गया है कि ट्रस्ट की एक टीम हेमकुंड साहिब का दौरा कर लौटी है। टीम के अनुसार वहां अभी भी पांच फीट से अधिक बर्फ मौजूद है।

हेमकुंड साहिब पैदल मार्ग पर अटलकोटी से हेमकुंड तक का दो किमी क्षेत्र भी अभी पूरी तरह ग्लेशियर की आगोश में है। मार्ग पर 20-20 फीट ऊंचे हिमखंड खड़े हैं। सरदार सेवा सिंह ने बताया कि भले ही अभी धाम के कपाट न खोल जा रहे हों, लेकिन सात चोटियों सहित हेमकुंड साहिब में लगाए गए निशान साहिब के झंडे को जुलाई आखिर और अगस्त पहले सप्ताह में बदल दिया जाएगा।
 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)








संबंधित समाचार