वाराणसी में अनूठा छात्र संघ चुनाव,वोट के लिए प्रत्याशियों ने मतदाताओं के पकड़े पांव

डीएन ब्यूरो

वाराणसी के महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ में इस बार छात्र संघ चुनाव कुछ अनोखा रहा है। यहां पर वोट मांगने के लिए प्रत्याशियों ने जो तरीका अपनाया शायद ही ऐसा नजारा किसी दूसरे विश्वविद्यालय के छात्र संघ चुनाव में दिखा हो। डाइनामाइट न्यूज़ की इस रिपोर्ट में पढ़ें, किस तरह अनूठा रहा यह चुनाव


वाराणसीः प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र में वाराणसी के महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ में इस बार छात्र संघ चुनाव में वोटरों को लुभाने के लिये छात्रों ने अनूठा उपाय निकाला। चुनाव लड़ रहे छात्रों ने जमीन पर लेट कर वोटरों के पैर पकड़े और अपने हाथ जोड़कर उनसे अपने पक्ष में वोट डालने की अपील की।    

यह भी पढ़ेंः गोरखपुर विश्वविद्यालय में चुनाव को लेकर जब छात्रों ने वीसी से की ये हरकत

 

काशी विद्यापीठ में छात्र संघ चुनाव में जुटे मतदाता 

 

बता दें कि काशी विद्यापीठ में अध्यक्ष, उपाध्यक्ष महामंत्री, पुस्तकालय मंत्री और संकाय प्रतिनिधि के लिए 14 प्रत्याशी मैदान में है। छात्र संघ के चुनाव में मतदान के लिए 23 बूथों पर करीब 8839 मतदाता मतदान कर रहे हैं । छात्र संघ के चुनाव को लेकर वाराणसी प्रशासन ने भी सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए हैं।   

यह भी पढ़ेंः आजमगढ़: शिक्षामित्रों के समर्थन में सड़कों पर उतरे शिब्ली नेशनल कॉलेज के छात्र नेता

 

चुनाव में विश्वविद्यालय परिसर पर बिखरे कागज

 

प्रशासन ने विश्वविद्यालय के चारों तरफ बैरिकेडिंग कर छात्रों को परिसर में बारी-बारी से वोट करने के लिए जाने दिया जा रहा है। वहीं प्रशासन ने चुनाव के दौरान 17 थानाध्यक्ष ,  72 सबइंस्पेक्टर और 250 कांस्टेबल के साथ 2 पीएसी कंपनी और 3 क्यूआईटी कंपनी को तैनात किया है ।   

 

 

यह भी पढ़ेंः वाराणसी के लोग लगा रहे नारे.. गुजराती नरेंद्र मोदी बनारस छोड़ो

क्या कहते हैं विश्वविद्यालय के प्रॉक्टर शंभू नाथ उपाध्याय 

 छात्र संघ चुनाव को लेकर विश्वविद्यालय के प्रॉक्टर शंभू नाथ उपाध्याय ने बताया कि महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ में इस बार का यह चुनाव पूरी तरीके से ऑनलाइन तरीके से हो रहा है। इसमें ऑनलाइन प्रक्रिया के तहत देखा जा सकता है कि कितने वोट पड़े हैं और कितने बाकी है। साथ ही बूथों की जानकारी भी एसएमएस के द्वारा छात्र ले सकते हैं वहीं प्रशासन की तरफ से सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं। 
 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार