ताजमहल का दीदार करने वाले पर्यटकों को बड़ा झटका..अब इन चीजों से रखा जाएगा दूर

डीएन ब्यूरो

ताजमहल का दीदार करने वालों के लिए एक बुरी खबर है। अब पर्यटक ताजमहल में कई चीजों से महरूम रह जाएंगे। यह ताजमहल की खूबसूरती को बरकरार रखने के लिए उठाया गया बड़ा कदम है। डाइनामाइट न्यूज़ की रिपोर्ट में पढ़ें क्या होगा अब ताज का

ताजमहल में देश-विदेश से जुटते हैं पर्यटक
ताजमहल में देश-विदेश से जुटते हैं पर्यटक

आगराः ताजमहल में देश-विदेश से आने वाले पर्यटकों के लिए अब एक बुरी खबर है। ताज की खूबसूरती को बचाए रखने के लिए एक बड़ा निर्णय लिया गया है। ताज के मुख्य मकबरे के चारों ओर संगमरमर की दीवार से एक निश्चित दूरी पर स्टील की ग्रिल लगाई गई है। संगमरमरी दीवारों को पर्यटकों के यहां पहुंचने पर इन्हें छूने से होने वाले होने नुकसान से बचाने के लिए यह निर्णय लिया गया है। ताज के मुख्य मकबरे को देखने के लिए अब पर्यटक इसी ग्रिल से गुजरकर इसका दीदार कर पाएंगे।     

यह भी पढ़ेंः UP: छेड़खानी का विरोध करने पर तेल छिड़ककर युवती को जिंदा जलाया..

 

दुनिया का अजूबा ताजमहल 

 

यह फैसला इसलिए लिया गया क्योंकि जब भी पर्यटक ताजमहल के मुख्य मकबरे पर संगमरमर की दीवार को छूते थे तो इससे संगमरमर की चिकनाई और पसीने से दीवार में कालेपन की समस्या आ रही थी और इससे इसकी खूबसूरती दिन-प्रतिदिन बिगड़ती जा रही हैं। भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआई) ने अपने सर्वेक्षण में यह पाया कि कई बार इसे साफ कराने के बावजूद कुछ दिनों में फिर से ताजमहल की दीवारों पर गंदगी नजर आने लगती थी।    

यह भी पढ़ेंः आईपीएस सौरभ गुप्ता ने कहा- IAS, IPS अफसरों के लिए नई कैडर नीति है काफी अच्छी

 

ताजमहल की खूबसूरती अब रहेगी बरकरार

 

यह भी पढ़ेंः आज का इतिहासः भारत और पाकिस्तान के लिये खास है आज का दिन.. 

इसके लिये एएसआई ने स्थाई समाधान निकालने के लिए दीवार से कुछ फीट की दूरी पर स्टील की ग्रिल लगवाईं। इसके बाद जब कुछ दिनों पहले इसका ट्रायल किया गया तो इससे जो परिणाम सामने आया इसके बाद से शनिवार से यह व्यवस्था लागू कर दी गई कि अब पर्यटक इस ग्रिल के बीच से ही होकर ताज के मुख्य मकबरे का दीदीर कर सकेंगे।एएसआई के अधीक्षण पुरातत्वविद् बसंत कुमार के मुताबिक ग्रिस से ताज की दीवारों की न सिर्फ सुरक्षा होगी बल्कि पर्यटकों को भी इसके दीदार में परेशानी नहीं होगी।

 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)








संबंधित समाचार