UP STF और दिल्ली पुलिस ने SSC परीक्षा पास कराने वाले गैंग का किया पर्दाफाश, 4 गिरफ्तार

डीएन ब्यूरो

यूपी एसटीएफ के चीफ अमिताभ यश के निर्देश पर उनकी टीम ने एक और बड़ी उपलब्धि अर्जित की है। यूपी एसटीफ और दिल्ली पुलिस ने संयुकित कार्यवाही कर पैसे लेकर एसएससी परीक्षा पास कराने वाले गैंग का भंडाफोड़ किया है।

पुलिस द्वारा गिरफ्तार आरोपी
पुलिस द्वारा गिरफ्तार आरोपी

नई दिल्ली: यूपी एसटीएफ के चीफ अमिताभ यश के निर्देश पर उनकी एक के बाद एक कई तरह की बड़ी आपाराधिक वारदातों का खुलासा कर रही है। इसी क्रम में यूपी एसटीएफ और दिल्ली पुलिस ने संयुक्त कार्यवाही कर पैसे लेकर एसएससी परीक्षा पास कराने वाले सॉल्वर गैंग का भंडाफोड़ कर चार शातिर आरोपियों को गिरफ्तार कर लिये है। यह गैंग परीक्षा पास कराने के नाम पर प्रति छात्र 12 से 15 लाख रूपये वसूलता था। पुलिस ने आरोपियों के पास से 3 लग्जरी गाडियां, 50 लाख रुपए नकद, 3 लैपटॉप, 10 मोबाइल फोन, 05 ब्लू टुथ डिवाइस, पेन ड्राइन, राउटर, हार्ड डिस्क समेत कई सामान बरामद किया। गिरफ्तार गैंग के सदस्यों में दो आरोपी हरियाणा, एक दिल्ली, और एक उत्तर प्रदेश का रहने वाला है।

 

बरामद नकदी और अन्य सामान

जानकारी के मुताबिक दिल्ली पुलिस के इनपुट पर यूपी एसटीएफ ने SSC परीक्षा में धांधली को लेकर संदिग्ध आरोपियों की धरपकड़ शुरू की और SSC परीक्षा की online परीक्षा में साल्वर बैठाने वाले गैंग का पर्दाफाश किया। यह गैंग SSC की सभी परीक्षाओं में पास कराने के एवज में प्रति छात्र 15 लाख रुपये में ठेका लेता था। हाल में हुई SSC की ऑनलाइन परीक्षा में इस गैंग ने 100 से 150 सॉल्वर बैठाये थे। यह गैंग ऑनलाइन ऐप टीम व्यूवर के जरिए SSC की परीक्षा में सॉल्वर से प्रश्नों को हल करा रहा था। 

यूपी एसटीएफ और दिल्ली पुलिस की टीम गिरफ्तार आरोपियों से पूछताछ में जुटी हुई है। पुलिस का मानना है कि इस गैंग से और भी लोग जुड़े हुए हो सकते है। माना जा रहा है कि यह लंबे समय से इस कारनामें को अंजाम दे रहा था। एसटीएफ और दिल्ली पुलिस ने इस गैंग के खिलाफ तिमारपुर थाने में एफआईआर दर्ज कराई है। गिरफ्तार आरोपियों की पहचान अजय कुमार, गौरव, परम और सोनू सिंह के रूप में हुई है। 

गौरतलब है कि SSC परीक्षा में धांधली के खिलाफ देश भर के छात्र पिछले कई दिनों से दिल्ली में SSC मुख्यलय के बाहर धरना-प्रदर्शन कर रहे है। इन छात्रों ने भी SSC परीक्षा में धंधली के आरोप लगाये हैं। 
   

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)










आपकी राय

Loading Poll …