UP: महोबा हत्याकांड की जांच को SIT गठित, 7 दिनों में रिपोर्ट, निलंबित SP से था व्यापारी को जान का खतरा

डीएन ब्यूरो

यूपी के महोबा में क्रेशर व्यापारी की हत्या की जांच के लिये एसआईटी गठित कर ली गयी है। जांच रिपोर्ट सात दिनों के अंदर सौंपी जाएगी। पढिये, इस हत्याकांड से जुड़ा ताजा अपडेट..

सांकेतिक तस्वीर
सांकेतिक तस्वीर

लखनऊ: महोबा के निलंबित एसपी मणिलाल पाटीदार  पर 6 लाख रुपये की घूस मांगने और व्यापारी इन्द्रकांत त्रिपाठी की मौत के प्रकरण की जांच के लिए एसआईटी का गठन किया गया है। एसआईटी को 7 दिनों मे अपनी रिपोर्ट देनी होगी। वाराणसी के आईजी विजय सिंह मीना इसका अध्यक्ष बनाया गया है।

आईपीएस शलभ माथुर, अशोक त्रिपाठी को इसका सदस्य बनाया गया है। इसमें मामले मे व्यापारी की मौत के बाद हत्या, आपराधिक साजिश की धारायें बढा दी गई हैं।

गौरतलब है की बीते 7 सितम्बर को मृतक की ओर से एक वीडियो जारी कर अपनी जान का खतरा तत्कालीन एस पी से बताया गया था।उसके अगले दिन उन्हे गोली मार दी गई। जिस पर उन्हें कानपुर के एक अस्पताल मे भर्ती कराया गया। जहां उनकी रविवार को मौत हो गई।

गौरतलब है कि व्यापीर  को गोली मारने के बाद इस मामले में महोबा के तत्कालीन एसपी मणिलाल पाटीदार को पहले ही संस्पेड किया जा चुका है। व्यापारी ने मौत से पहले एसपी से अपनी जान के खतरे को लेकर वीडियो वायरल किया था।
 








संबंधित समाचार