मुंबई में हुए 26/11 के हमलावरों को बख्शा नहीं जायेगा-पीएम मोदी

डीएन ब्यूरो

मुम्बई हमले की घटना को आज दस साल हो गए। इसकी 10वीं बरसी पर पीएम मोदी ने कहा कि हम मौके की तलाश में हैं, छब्बीस-ग्यारह के हमलावरों को छोड़ेंगे नहीं। डाइनामाइट न्यूज़ की रिपोर्ट...

प्रधानमंत्री  नरेन्द्र मोदी
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी

भीलवाड़ा: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कांग्रेस पर सर्जिकल स्ट्राइक पर सवाल उठाने का आरोप लगाते हुए कहा है कि मुम्बई में हुए छब्बीस-ग्यारह के हमलावरों को बख्शा नहीं जायेगा।

मोदी चुनाव प्रचार के अपने दूसरे दिन आज यहां आयोजित जनसभा में कहा कि मुम्बई हमले की घटना को आज दस साल हो गए। उन्होंने विश्वास दिलाते हुए कहा “हम मौके की तलाश में हैं, छब्बीस-ग्यारह के हमलावरों को छोड़ेंगे नहीं।

यह भी पढ़ें: मध्यप्रदेश विधानसभा चुनावः BJP ने 5 दर्जन 'बागियों’ को किया पार्टी से बाहर.. अब शायद ही होगी घर वापसी

उन्होंने कांग्रेस को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि जब दिल्ली रिमोट कंट्रोल से चलता था, तब महाराष्ट्र में भी कांग्रेस की सरकार थी उस समय मुंबई में आतंकवादियों ने हमला कर हमारे देश के लोगों एवं जवानों को गोलियों से भून दिया था। आज हमने आतंकवाद के खिलाफ ऐसी लड़ाई लड़ी है कि आतंवादियों को कश्मीर की धरती से बाहर निकलना भी मुश्किल हो रहा है। उन्होंने कहा कि उनकी सरकार बनने से पहले देश में विभिन्न जगहों पर आतंकवादी घटनाये होती थी।

उन्होंने कहा कि जम्मू कश्मीर में पंचायत के चुनाव चल रहे हैं और आतंकवादी लोगों को धमका रहे हैं कि वोट डालने वालों की उंगली काट दी जायेगी, उन्हें मौत के घाट उतार दिया जायेगा लेकिन कश्मीर में तीन चरण के चुनाव सम्पन्न हो गये और वहां 70-75 प्रतिशत मतदान हो रहा हैं। एेसे ही छत्तीसगढ़ के बस्तर में भी नक्सलवादियों ने धमकी दी थी लेकिन वहां भी इतना मतदान हुआ हैं। उन्होंने कहा कि लोकतंत्र में ताकत लड़ती है तब आतंकवादियों से लोहा लिया जाता हैं। लोकतंत्र में हिंसा का कोई स्थान नहीं हैं। 

उन्होंने कहा कि मुम्बई हमले के समय राजस्थान में चुनाव अभियान चल रहा था और इस घटना की आलोचना होती थी तो कांग्रेस के राजदरबारी उछल पड़ते थे। वे इस पर राजनीति कर रहे थे। उन्होंने कहा कि आतंकवाद के नाम पर राजनीति नहीं करनी चाहिए। उन्होंने कांग्रेस से सवाल करते हुए कहा कि दस साल पहले हुई इस घटना से पूरी दुनिया हिल गई थी और कांग्रेस उसमें से चुनाव जीतने का खेल खेल रही थी।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस देश भक्ति के पाठ पढ़ा रही थी वहीं हमारी सरकार आने के बाद सेना ने सर्जिकल स्ट्राइक कर आतंकवादियों का हिसाब चुकता कर दिया। उन्होंने कहा कि दुश्मन को उसके घर में जाकर मारा गया और हर हिन्दुस्तानी को गर्व हुआ था। ऐसे सयम में कांग्रेस ने सर्जिकल स्ट्राइक पर सवाल उठाया। वीडियो दिखाओं सर्जिकल स्ट्राइक हुआ या नहीं। उस समय कांग्रेस को देश भक्ति याद नहीं आई। उन्होंने कहा कि अब कांग्रेस को जवाब देना होगा।

यह भी पढ़ें: पीएम मोदी बोले- मुझसे मुकाबले की ताकत नहीं, इसलिए मां को राजनीति में घसीट रही कांग्रेस

उन्होंने कहा कि माओवादी और नक्सलवादी निर्दोष लोगों को मौत के घाट उतार देते हैं। अभी इनके हमले में भरतपुर का नौजवान शहीद हो गया। जिन नक्सलियों ने भरतपुर के जवान की पीठ पर वार किया उन्हीं नक्सलियों को कांग्रेस के नेता क्रांतिकारी होने का सर्टिफिकेट दे रहे हैं।

उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर तंज कसते हुए कहा “मैंने कहा था कि मैं परिश्रम करने में कोई कमी नहीं रखूंगा। मेरी मेहनत में आपको कोई कमी नजर आती है, दिन-रात काम करता हूं या नहीं, आपने कभी सुना कि मैंने छुट्टी ली, कभी सुना है कि मैं यहां टहलने चला गया। कभी सुना कि मैं सात दिन खो गया, मैं मेरा हिसाब दे रहा हूं।”

उन्होंने कहा कि विपक्ष मेरे काम का हिसाब मांगता है। आपके यहां उनके नेता आ जाएं तो उनसे पूछ लेना कि देश की आजादी को साठ साल हो गए, क्या किया। उन्होंने कहा कि साठ साल बाद उन्हें मौका मिला और साठ साल तक नामदार की पीढ़ी से सवाल पूछने की हिम्मत किसी ने नहीं की। लेकिन मुझमें हिम्मत है। जबाब देना होगा। उन्होंने कहा कि मोदी हिसाब भी मांगता है और हिसाब देता भी है। पल-पल और पाई-पाई का हिसाब देता है। (वार्ता)

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार