इस वजह से वीरेंद्र सहवाग नहीं बन पाये टीम इंडिया के कोच

डीएन संवाददाता

भारतीय टीम के कोच की रेस में क्रिकेटर वीरेंदर सहवाग और रवि शास्त्री के बीच कड़ी टक्कर थी। लेकिन शास्त्री, सहवाग को पछाड़ कर टीम इंडिया के नये कोच नियुक्त हुये।

वीरेंद्र सहवाग
वीरेंद्र सहवाग

मुंबई: बीसीसीआई ने कोच अनिल कुंबले के इस्तीफे के बाद पुर्व क्रिकेटर रवि शास्त्री को भारतीय टीम का नया कोच नियुक्त किया। शास्त्री को विश्वकप 2019 तक के लिए भारतीय टीम का कोच नियुक्त किया। शास्त्री के आलावा पूर्व तेज गेंदबाज़ ज़हीर खान को गेंदबाजी कोच, जबकि ओवरसीस दौरे पर राहुल द्रविड़ को बल्लेबाज़ी सलाहकार के रूप में नियुक्त किया गया।

यह भी पढ़ें: कोच रवि शास्त्री की वजह से जहीर-द्रविड़ की नियुक्ति खतरें में !

बता दें कि भारतीय टीम के कोच की रेस में क्रिकेटर वीरेंदर सहवाग और रवि शास्त्री के बीच कड़ी टक्कर थी। लेकिन शास्त्री ने सहवाग को पछाड़ कर टीम इंडिया के नये कोच नियुक्त हुये। पहले यह कयास लगाए जा रहे थे कि पूर्व बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग को कोच बनाया जा सकता है। लेकिन जब शास्त्री को कोच नियुक्त किया गया तो सबके मन में यह सवाल उठने लगे कि आखिर सहवाग को टीम इंडिया का कोच क्यों नहीं बनाया गया।

यह भी पढ़ें: पूर्व कप्तान राहुल द्रविड़ अगले दो साल तक इंडिया-ए और अंडर-19 टीम के कोच रहेंगे..

सहवाग को कोच नहीं बनाये जाने के पीछे कई वजह बताये जा रहे हैं। कप्तान कोहली अनिल कुंबले को कोच बनाये जाने के पहले ही शास्त्री को कोच बनाने की वकालत करते आये है, और अब फिर से शास्त्री की जगह सहवाग को कोच बनाया जाता तो, यह टीम के लिए शायद अच्छा नहीं रहता। दूसरा सहवाग को कोच न बनाये जाने की वजह उनका आक्रामक तेवर बताया जा रहा है जो कोच पद के लिहाज से सही नहीं है।

ये भी खबर है कि सहवाग सोशल मीडिया वेबसाइट ट्विटर पर काफी एक्टिंव रहते हैं और छोटी से छोटी बात भी सोशल मीडिया पर शेयर करते रहते हैं, जो एक कोच के लिहाज से सही नहीं है।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार