Uttar Pradesh: सैफई महोत्सव के संस्थापक रणवीर सिंह की पुण्यतिथि पर दी गई श्रद्धांजलि

डीएन ब्यूरो

सैफई महोत्सव के संस्थापक और सैफई के प्रथम ब्लॉक प्रमुख स्व० रणवीर सिंह यादव की आज 17वीं पुण्यतिथि मनाई गई। इस मौके पर एक हवन का आयोजन किया गया जिसमें मुलायम परिवार के तमाम सदस्यों ने हिस्सा लिया। पढ़ें डाइनामाइट न्यूज़ पर पूरी खबर..

हवन का किया गया आयोजन
हवन का किया गया आयोजन

इटावाः आज सैफई महोत्सव के संस्थापक और सैफई के प्रथम ब्लॉक प्रमुख स्व०  रणवीर सिंह यादव की आज 17वीं पुण्यतिथि मनाई गई है। इस मौके पर हवन का आयोजन किया गया।

यह भी पढ़ें: जल निगम मुख्यालय पर कर्मचारियों का प्रदर्शन, सरकार से कर रहे हैं ये मांग


इस दौरान सुभाष यादव पूर्व राज्यमंत्री, सोवरन सिंह यादव विधायक, बदायूं  के पूर्व सांसद धर्मेंद्र यादव, दिवंगत रणवीर सिंह के बेटे मैनपुरी के पूर्व सांसद तेज प्रताप सिंह यादव, राजपाल सिंह यादव, अंशुल यादव,  मृदुला यादव ब्लॉक प्रमुख सैफई, वेदब्रत गुप्ता, विजय आर्य शिकोहाबाद, राजवीर ठेकेदार, राजू यादव, सीताराम कश्यप, चंदगीराम यादव, महावीर सिंह यादव, ब्रजेश कठेरिया विधायक, डॉ अरविंद यादव, अनुराग यादव दीपू, डॉ ब्रजेश यादव, डॉ रामकुमार। यादव, अवधेश खदरी, प्रदीप आईटीआई, अनुज प्रताप यादव, अनिल यादव गुड्डू, कृपाराम कश्यप, करन चौधरी, यतीन्द्र यादव, डॉ असीम यादव एमएलसी, हाजी उमर सिद्दीकी, प्रदीप आढ़तिया, सुजान सिंह यादव, सुनील प्रधान मैनपुरी, कमलापति वर्मा, महेश दिवाकर, नितुल प्रताप यादव, राजवीर बाबा, आलोक यादव, अशोक यादव पूर्व जिलाध्यक्ष इटावा, नरेंद्र यादव, गोपाल यादव जिलाध्यक्ष, योगेंद्र यादव, रामनरेश यादव, सतनाम अरोरा, ऋषि अरोरा, संतोष शाक्य, सन्तोष यादव, आशीष राजपूत, हरिओम ब्लॉक प्रमुख भरथना, सुमेरु जैन, वीरेंद्र प्रधान हेंवरा, कार्तिकेय यादव, आदेश प्रधान फुलापुर, बीकेश यादव प्रधान, मोहित यादव, सोनू यादव सैफई, विजयपाल फौजी, समेत मुलायम परिवार के तमाम छोटे बड़े नेताओं ने भाग लिया।  

यह भी पढ़ें: नहीं थम रहे घोटाले, होमगार्डों की तैनाती और वेतन निकासी में बड़ा फर्जीवाड़ा आया सामने


बता दें कि मुलायम सिंह यादव के भतीजे और तत्कालीन ब्लॉक प्रमुख रणवीर सिंह यादव ने सैफई ब्लौक में छोटे से मेले की शुरुआत की थी। इसके बाद हर साल इस मेले का आयोजन होता रहा। सन 2003 में मुलायम सिंह यादव के नेतृत्व में सपा सरकार बनी। इसके बाद से यह सैफई मेला महोत्सव में बदल गया और शानदार तरीके से इसका आयोजन किया जाने लगा।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)








संबंधित समाचार