Amethi: सपा विधायक ने अमेठी पुलिस के खिलाफ खोला मोर्चा, कार्य प्रणाली पर उठाए सवाल

डीएन ब्यूरो

अमेठी में सपा विधायक ने पुलिस के खिलाफ मोर्चा खोला है। साथ ही कई गंभीर आरोप लगाए हैं। पढ़ें डाइनामाइट न्यूज़ पर पूरी खबर..

डीएम अमेठी को सौंपते विधायक
डीएम अमेठी को सौंपते विधायक

अमेठीः जनपद के गौरीगंज विधानसभा से समाजवादी पार्टी के विधायक राकेश प्रताप सिंह ने अमेठी पुलिस के खिलाफ मोर्चा खोला है। विधायक ने योगी आदित्यनाथ को एक पत्र लिखा है जिसमें उन्होंने अमेठी पुलिस की कार्य प्रणाली पर सवालिया निशान लगाया है। सपा विधायक ने जिलाधिकारी अरुण कुमार के माध्यम से ये पत्र मुख्यमंत्री को भेजा है।

यह भी पढ़ें: आपस में भिड़े दो पक्ष,जमकर चली लाठियां और हुई फायरिंग 

मुख्यमंत्री को लिखे पत्र में उन्होंने कहा है कि अगर उनके ज़रिए उठाए गए मुद्दों पर जल्द ही कोई निर्णय नहीं लिया गया तो वे कलेक्ट्रेट में अनिश्चितकालीन धरने पर बैठेंगे। उन्होंने अमेठी पुलिस पर आरोप लगाया है कि पुलिस लोगों के साथ न्याय नहीं कर रही है। उन्होंने पुलिस पर प्रथम सूचना रिपोर्ट दर्ज न करने, फर्जी मामलों में निर्दोष लोगों को फंसाने, अपराधों की निष्पक्ष विवेचना न करने, एकपक्षीय कार्यवाई करने, लोगों को अकारण प्रताड़ित करने, अवैध कब्जे कराने और अनेक मामलों में समय से कार्यवाई न करने का गंभीर आरोप लगाया है।

यह भी पढ़ें: दो पक्षों मेंखूनी संघर्ष, पुलिस ने मामले में दिखाई सख्ती और फिर..  

उन्होंने लिखा कि पुलिस की ये कार्य प्रणाली जनमानस में अपना विश्वास खोने के साथ लोगों को पुलिस के खिलाफ मुंह खोलने पर विवश कर रही है। इतना ही नहीं, सपा विधायक ने पत्र में कुछ घटनाओं का ज़िक्र भी किया है जिसमें उन्होंने पुलिस की कार्य प्रणाली पर सवाल उठाए हैं। साथ ही उन्होनें लिखा है कि 1 जून 2020 से मुझे जिला कलेक्ट्रेट में अनिश्चितकालीन धरने पर बैठने के लिए विवश होना पड़ेगा। हालांकि उन्होंने ये भी ज़िक्र किया कि धरने के दौरान वे कोविड-19 के सम्बंध में सरकार की गाइड लाइन का पालन करेंगे।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)








संबंधित समाचार