कानपुर में मंत्री सत्यदेव पचौरी ने बुनकरों को किया सम्मानित

डीएन संवाददाता

कानपुर में कैबिनेट मंत्री सत्यदेव पचौरी ने राज्य स्तरीय बुनकरों को हथकरघा पुरस्कार से सम्मानित किया।

बुनकरों को हथकरघा पुरस्कार से सम्मानित करते  मंत्री सत्यदेव पचौरी
बुनकरों को हथकरघा पुरस्कार से सम्मानित करते मंत्री सत्यदेव पचौरी

कानपुर: उत्तर प्रदेश को उत्तम प्रदेश बनाने के लिए प्रदेश सरकार लाख प्रयास कर रही है। इसी प्रयास के चलते शनिवार को रोहतगी हॉस्पिटल के सभागार में खादी एवं ग्राम उद्योग मंत्री सत्यदेव पचौरी ने सभागार में शिरकत की। वहीं चयन समिति के द्वारा चयनित राज्य स्तरीय बुनकरों को हथकरघा पुरस्कार से नवाजा गया।

प्रदेश सरकार नई नीतियां बनाने की कवायद में जुटी

यूपी कैबिनेट मंत्री सत्यदेव पचौरी ने कहा कि कुटीर उद्योगों के उत्पादन को बढ़ाने के लिए सरकार प्रयास कर रही है जिससे गरीबी को दूर किया जा सके। उन्होंने कहा कि मऊगनीपुर में हथकरघा का बहुत बड़ा काम होता हैं। हमें ऐसे क्षेत्रों को बढ़ाने की आवश्यकता है। जिसमें मशीन पर काम करने वालों को दिहाड़ी कम मिलती हैं। हथकरघा का काम करके उन्नति और अधिक की जा सकती हैं। इसके लिए उत्तर प्रदेश सरकार एक नीति बना रही हैं। कपड़ा नीति में हथकरघा भी शामिल हैं।

यह भी पढ़ें: कानपुर: प्रतियोगिता में विजेता कैदियों को पुरस्कार देने पहुंचे कारागार राज्य मंत्री

सम्मान समारोह की खास बातें

  • हथकरघा बुनकर पेंशन योजना को मुख्यमंत्री हथकरघा बुनकर सम्मान योजना के नाम से संचालित किया जाएगा।
  • जिसमें न्यूनतम आयु सीमा को 60 वर्ष से घटा कर 45 वर्ष किया जा रहा हैं तथा इसमें वार्षिक आय की अनिवार्यता को भी समाप्त किया जा रहा हैं।
  • समाज के हर वर्ग को साथ लेकर चलने की योजनाये बनाई जा रही हैं।
  • बुनकरों की सुनवाई करके अमली जामा पहनाया जायेगा।
  • स्वच्छ भारत मिशन के अन्तर्गत सफाई रखकर सबको निरोगी बनाना हैं सफाई का विशेष ध्यान
  • अधिकारियो को निर्देश दिए गए है कि वह सप्ताह में एक दिन अपने-अपने क्षेत्रों में जाकर जनता को जागरूक करें।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार