मेरठ: अवैध फैक्ट्री के खिलाफ ग्रामीणों का फूटा गुस्सा.. किया उग्र प्रदर्शन

डीएन संवाददाता

मेरठ जनपद में अवैध फैक्ट्री के खिलाफ प्रदर्शन करने आए ग्रामीणों को पुलिस कलेक्ट्रेट गेट के पास में रोक लिया जिसके कारण किसानों का गुस्सा फूट पड़ा। डाइनामाइट न्यूज की एक्सक्लूसिव रिपोर्ट..


मेरठः अवैध फैक्ट्री के खिलाफ मंगलवार  को प्रदर्शन करने आए भारतीय किसान यूनियन के नेताओं को कलेक्ट्रेट गेट के पास में पुलिस ने रोक लिया। जिसके कारण किसान आक्रोशित हो गए। किसानों ने पुलिस प्रशासन के विरुद्ध जमकर हंगामा किया, जिसके पश्चात पुलिस ने अपने कदम पीछे ले लिए बाद में किसानों ने प्रशासनिक अधिकारियों को ज्ञापन सौंपते हुए फैक्ट्री को हटाए जाने की मांग की।

यह भी पढ़ें: मेरठ: तीन बच्चों की मां को ससुराल वालों ने किया बेघर, न्याय के लिए दर-दर भटकने को मजबूर महिला 

प्रदर्शन करते किसान

गंग नहर पटरी स्थित बहादुरपुर गांव के सैकड़ों किसान ट्रैक्टर ट्रॉलियों में भरकर जिला मुख्यालय पहुंचे किसानों का नेतृत्व कर रहे भारतीय किसान यूनियन के नेता देश पाल हुड्डा सहित अन्य किसानों को कलेक्ट्रेट के मुख्य द्वार पर खड़े पुलिसकर्मियों ने भीतर जाने से रोक दिया। जिसके पश्चात किसानों ने हंगामा शुरू कर दिया। किसानों ने बताया कि क्षेत्र में स्थित एक अवैध फैक्ट्री में संचालक द्वारा रोज टायर जलाए जाते हैं जिसके चलते कैंसर के कारण क्षेत्र के कई ग्रामों की मौत हो चुकी है। पानी के गंदे होने के कारण किसानों की फसल बर्बाद हो रही है।

यह भी पढ़ें: मेरठ: दुधमुंही बच्ची को उठा ले जाने की धमकी से परेशान मां.. आया पर लगाए गंभीर आरोप

उन्होंने बताया कि इस संबंध में उन लोगों ने पहले भी प्रशासनिक अधिकारियों से शिकायत की थी, आरोप है कि इसके बाद भी उनकी कोई सुनवाई नहीं हुई। किसानों ने चेतावनी देते हुए कहा कि यदि प्रशासन ने फैक्टरी को नहीं हटवाया तो किसान उग्र आंदोलन के लिए मजबूर होंगे।
 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार