मेरठ: तीन बच्चों की मां को ससुराल वालों ने किया बेघर, न्याय के लिए दर-दर भटकने को मजबूर महिला

डीएन ब्यूरो

मेरठ में तीन बच्चों की मां को उसके ससुराल वालों ने बाहर कर दिया, जिसके बाद महिला न्याय के लिए दर-दर भटकने को मजबूर है। महिला अपने तीन बच्चों को लेकर आलाधिकारियों से न्याय की गुहार लगा रही है। डाइनामाइट न्यूज़ की रिपोर्ट...

तीन बच्चों के साथ महिला

मेरठ: थाना भावनपुर क्षेत्र की एक महिला ने अपने ससुरालियों पर उत्पीड़न का आरोप लगाया है। महिला का आरोप है कि उसका पति नशे का आदि है और वह अपनी पत्नी व बच्चों के साथ आये दिन मारपीट करता है।

वहीं महिला के तीन छोटे-छोटे बच्चे भी है। जिनका लालन पोषण महिला मेहनत मजदूरी करके करती है। अब महिला को पति व उसकी सास ने बेदखल कर दिया है। असहाय महिला अब अपने तीन बच्चों को लेकर कंपा देने वाली ठण्ड में सड़क पर रह रही है। पीड़ित महिला ने जब थाने में शिकायत की तो थाने वालों ने फटकार लगाकर भगा दिया। महिला का कहना है कि थाने में तैनात एक दरोगा ने यह भी कह दिया है कि मेरी भट्टे पर जान पहचान है। आप भट्टे पर काम करके अपने बच्चों का पेट भर लो। अब महिला अपने तीन बच्चों को लेकर आलाधिकारियों से न्याय की गुहार लगा रही है। 

जयभीम नगर वार्ड नंबर 13 में रहने वाली बुलबुल नाम की महिला की 16 साल पहने बिजेन्द्र उर्फ कालू नाम के युवक से शादी हुई थी। शादी के कुछ दिनों बाद से ही युवक नशे की लत में पड़ गया। उसके बाद वो महिला से मारपीट व घर से निकालने की धमकी देता रहा। लेकिन बेचारी बुलबुल चुपचाप सब सहन करती रही। लेकिन हद तो तब हो गई जब उसके पति ने अपनी मां के साथ मिलकर अपनी पत्नी को बेदखल कर दिया। महिला का कहना है कि वह मजदूरी करके अपना घर चलाती है। उसके तीन बच्चें हैं जिन्होंने आर्थिक तंगी के कारण स्कूल जाना बंद कर दिया है। महिला ने आज पुलिस अधिकारियों से मिलकर न्याय की गुहार लगाई है।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार