लापता युवक का शव न मिलने से परिजनों में आक्रोश.. किया आईजी दफ्तर का घेराव

डीएन संवाददाता

उत्तर प्रदेश के हापुड़ जिले से 12 दिसमबर से गायब युवक का शव न मिलने से आक्रोशित परिजनो ने मेरठ जिले में आईजी दफ्तर का किया घेराव, परिजनो ने आरोपियों के खिलाफ की पड़ी कार्यवाही का मांग। डाइनामाइट न्यूज की रिपोर्ट..


मेरठ: हापुड़ जनपद के थाना बहादुरगढ़ क्षेत्र के डोला पुर गांव में अंकुश (18) पुत्र स्वर्गीय वरुण सिंह 12 दिसंबर रात 9:00 बजे घर से लापता हो गया था, जिसकी अंकुश के परिजनों ने अगले दिन थाना बहादुरगढ़ में गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई। पुलिस द्वारा तलाश करने के बाद पता चला कि अंकुश की उसके मित्रों द्वारा गोली मारकर हत्या कर दी गई, जिसे सियाणा की नहर में फेंक दिया गया हत्यारोपी भी ढोल ढोल गांव के निवासी हैं।

यह भी पढ़ें: मेरठ: छेड़खानी करना मनचले को पड़ा महंगा, लोगों ने लात-घूंसे से जमकर की धुनाई

Caption

जिसके बाद मृतक के परिजनों ने गांव के ही विशाल अरविंद उर्फ प्रमोद, पुष्पेंदर के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई थाना पुलिस ने तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया पुलिस द्वारा आरोपी से पूछताछ करने पर आरोपियों ने बताया कि प्रेम प्रसंग के चलते अंकुश की गोली मारकर हत्या की है। उसकी लाश सियाना की नहर में फेंक दिया, लेकिन हत्या के 8 दिन बीत जाने के बाद भी पुलिस शव को बरामद नहीं कर पाई है।

यह भी पढ़ें: बसपा सरकार में मंत्री रहे याकूब कुरैशी चला रहे थे अवैध मीट फैक्ट्री, लगा ताला 

मृतक के परिजनों का आरोप है कि थाना बहादुरगढ़ के इंस्पेक्टर मनोज चौधरी ने आरोपियों से सांठगांठ करके मामला रफा-दफा करने की कोशिश की है। मृतक के परिजनों ने बताया अंकुश विशाल के पिता जी की एक्सपोर्ट फैक्ट्री में काम करता था। परिजनों ने आज आईजी मेरठ राम कुमार के कार्यालय पर आकर शव की बरामदगी वह आरोपियों के खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई की मांग की है।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)











आपकी राय

Loading Poll …