मेरठ: शिक्षा का यह मंदिर बना जुए का अड्डा

डीएन ब्यूरो

यूपी के जनपद मेरठ से एक शर्मसार कर देने वाली तस्वीर सामने आयी है। यहां शिक्षा के मंदिर में शिक्षा के बाद चलता है जुआ। जी हां! आपने सही सुना है शिक्षा का मंदिर अब जुए का अड्डा बन चुका है। डाइनामाइट न्यूज की रिपोर्ट..

प्राथमिक विद्यालय के अंदर जुआ खेलते जुआरी
प्राथमिक विद्यालय के अंदर जुआ खेलते जुआरी

मेरठ: थाना कोतवाली क्षेत्र में प्रशासनिक लापरवाही के कारण सरकारी स्कूल कसीनो में तब्दील हो गया है। कोतवाली थाना क्षेत्र के पूर्वा अहिरान में प्राथमिक विद्यालय है। विद्यालय की छुट्टी के बाद आसपास के असमाजिक तत्वों का जमावड़ा लग जाता है। कुछ लोगों ने तो यंहा जुएबाजी भी शुरू कर दी है। इस पूरे प्रकरण में सबसे बड़ी बात यह है कि ये लोग पुलिस प्रशासन को भी खुली चुनौती दे रहे हैं।

यह भी पढ़ें: यूपी: दिव्यांग छात्रा से पहले रेप का प्रयास.. अब तेजाब डालने की धमकी दे रहा आरोपी 

कप्तान ने जिले के सभी थानेदारों को सख्त आदेश दिए है कि यदि कही भी जुआ सट्टा या कोई भी गैरकानूनी काम चलता पाया जाता है तो उसके लिए थानाध्यक्ष जिम्मेदार होंगे। जबकि सभी थानों में बीट के अनुसार फैंटम तैनात की गई है। जिसका  काम समय समय पर अपने क्षेत्र में गश्त करना होता है। जिससे कि अपराधी और अपराध में कमी आ सके, लेकिन मेरठ की फैंटम किसी चौराहे पर गपशप या अवैध वसूली करती नज़र आएगी।

यह भी पढ़ें: मर्डर: बसपा नेता के हत्यारोपित को गोलियों से भूना, गांव में भारी तनाव

इस मामले में शिक्षा विभाग का भी दोष कम नही है। सवाल यह है कि आखिर इतने बड़े स्कूल में चौकीदार की व्यवस्था क्यों नही है। जबकि स्कूल में एक कस्तूरबा गाँधी गर्ल्स हॉस्टल भी है, जिसमे छोटे बच्चे भी पढ़ते है क्या प्रशासन को किसी बड़ी घटना का इंतजार है।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)