महराजगंजः सिसवा नगर में मां दुर्गा के ये 5 मंदिर नवरात्रि पर भक्तों की पूरी करते हैं मुराद

डीएन ब्यूरो

महराजगंज के सिसवा नगर में मां दुर्गा के 5 स्वरूप भक्ति का एक अनूठा संगम है। यहां नवरात्रि में मां के आशीर्वाद के लिए भारी तादाद में भक्त जुटते हैं। इस बार शारदीय नवरात्रि पर यहां भक्त मां के पास मुरादें लेकर पहुंच रहे हैं। डाइनामाइट न्यूज़ की रिपोर्ट में पढ़ें, कैसे जुड़ी है मां के इन पांच स्वरूपों से मान्यता


महराजगंजः स्थानीय उपनगर सिसवा में स्थित शक्ति स्वरूप पांच देवियों की भक्तों में अटूट आस्था सदियों से जुड़ी है। नगर में स्थित हठ्ठी माई स्थान, पश्चिम में शायर माई स्थान,मध्य में मां दुर्गा काली, और दक्षिण में शायर माता का स्थान है। यहां सप्ताह में प्रत्येक सोमवार व शुक्रवार को देवी के अलग-अलग रूपों के दर्शन के लिए श्रद्धालु काफी तादाद में जुटते हैं। इसके आलावा शारदीय व वासंतिक नवरात्रि में देवियों की पूजा-अर्चना करने के लिए श्रद्धालुओं का तांता लगा रहता है।  

यह भी पढ़ेंः जानिये, नवरात्रि पर दिल्ली के इन 6 मंदिरों में जब मां भक्तों पर बरसाती है अनूठी कृपा

     

सिसवा नगर में मां के मंदिर में जुटते भक्त

 

मां दुर्गा ऐसे लगाती है भक्तों का बेड़ा पार

नगर व क्षेत्र के लोगों में मांगलिक कार्य करने में देवी के मंदिरों में आशीर्वाद प्राप्त करने की भी पंरपरा है, इसके पीछे यह मान्यता रही है कि ये पांच देवियां सिसवा नगर को विपदाओं से बचाती हैं और श्रद्धालुओं की हर मनोकामना को पूर्ण करती है।   

यह भी पढ़ेंः देश के 9 राज्यों में ऐसे नजर आते हैं नवरात्रि के 9 रंग, मां दुर्गा के 9 रूप देते हैं आशीर्वाद  

कहने के लिए तो इस्टेट परिवार की यह कुल देवी है लेकिन नगर के सभी भक्तजन यहां मत्था टेकते है इसी प्रकार स्वर्णकार वर्ग द्वारा सोनार पट्टी में 70 के दशक में मां दुर्गा का भव्य मन्दिर बनाया गया था। तब से यहां संगमरमर की दुर्गा प्रतिमा की पूजा-अर्चना करते हैं। वहीं मां काली का मन्दिर में भी भक्तों का तांता लगा रहता है। 

  

दुर्गा मां के मंदिर में पूजा के जुटते भक्त 

 

इन पौराणिक मंदिरों को लेकर क्या कहते हैं बड़े- बुजुर्ग 

यह भी पढ़ेंः शारदीय नवरात्रि पर मां दुर्गा के ये 9 रूप मोह लेते हैं भक्तों का मन

क्षेत्र के बड़े- बुजुर्गों का कहना है कि लोह यहां हर मांगलिक कार्यक्रम जैसे मुंडन, संस्कार से लेकर शादी- विवाह का शुभारंभ देवी के आशीर्वाद के साथ किया जाता हैय़। यहां शायर माता व भुअरी माता का मन्दिर भी सैकड़ों वर्ष पुराना है। यहां भी लोग आशीर्वाद प्राप्त कर मांगलिक कार्यों आदि का शुभारंभ करते हैं लोगों का मानना है की ये पांच देवियां नगर की सुरक्षा करती है लोग मानते है की देवियों के आशीर्वाद से नगरवासियों व नगर का कल्याण होता है।   

(नवरात्रि विशेष कॉलम में डाइनामाइट न्यूज़ आपके लिए ला रहा है हर दिन नयी खबर.. मां दुर्गा से जुड़ी खबरों के लिए इस लिंक को क्लिक करें: https://hindi.dynamitenews.com/tag/Navratri-Special


 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार