महराजगंज: अवैध शराब रोकने में पुलिस की लापरवाही, एसआई और कांस्टेबल हुए सस्पेंड

डीएन संवाददाता

यूपी में जहरीली शराब के कारोबार के चलते मरने वालों की संख्या 80 से ऊपर पहुंच गई है लेकिन सरकार है कि दोष विपक्षी पार्टियों पर डाल रही है। जिस तरह से एक के बाद एक अफसर सस्पेंड हो रहे हैं उससे पुलिस की लापरवाही इस मामले में साफ जाहिर हो रही है। पढ़ें डाइनामाइट न्यूज़ की एक्सक्लूसिव रिपोर्ट..

जांच में पहुचे एसपी रोहित सिंह सजवान
जांच में पहुचे एसपी रोहित सिंह सजवान

महराजगंज: उत्तर प्रदेश में अवैध शराब से मरने वालों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। यह संख्या 80 से ऊपर पहुंच गई है लेकिन योगी सरकार इसका दोष विपक्ष पर डालते हुए इसे साजिश का नाम दे रही है। लेकिन जिस तरह से इस मामले में अफसरों को सस्पेंड किया जा रहा है उससे पुलिस की लापरवाही साफ नजर आ रही है। हाल ही में इस मामले में महराजगंज के दो अधिकारियों को भी सस्पेंड किया गया है। 

यह भी पढ़ें: जहरीली शराब के खिलाफ यूपी पुलिस की मुहिम जारी, एक्शन में आई लखनऊ पुलिस..

एसआई और कांस्टेबल हुए सस्पेंड       
थाना फरेन्दा के क्षेत्र में अवैध कच्ची शराब की भट्टी धधक रही थी और फरेन्दा पुलिस सो रही थी। जहरीली शराब से आये दिन मौतें हो रही हैं लेकिन उसके विरुद्ध पुलिस की सुस्ती देखने को मिल रही है। शनिवार को पुलिस अधीक्षक द्वारा जांच में फरेन्दा थाने के सब इन्स्पेक्टर कमलेश प्रताप सिंह व कांस्टेबल प्रदीप सिंह को निलंबित कर दिया गया। साथ ही थानाध्यक्ष फरेंदा सतेंद्र बहादुर के विरुद्ध प्रारंभिक जांच का आदेश दिया गया। इस संबंध में जिलाधिकारी ने आबकारी अधिकारी के विरुद्ध भी कार्यवाही की है।
  


 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)











आपकी राय

Loading Poll …