महराजगंज: भ्रष्ट और रिश्वतखोर लेखपाल पर चला प्रशासन का चाबुक, एसडीएम ने सिखाया सबक

डीएन संवाददाता

ग्राम समाज की भूमि पर अवैध कब्जा करने वाले आरोपी से रिश्वत लेकर मामले को रफा-दफा करने के केस में घूसखोर लेखपाल के खिलाफ प्रशासन ने बड़ी कार्रवाई की है। डाइनामाइट न्यूज़ की इस एक्सक्लूसिव रिपोर्ट में जानें पूरी कार्रवाई और इस चर्चित मामले के बारे में..


महराजगंज: नौतनवा क्षेत्र में ग्राम समाज की भूमि पर अवैध कब्जा करने वाले आरोपी से घूस लेने वाले लेखपाल को प्रशासन ने बड़ा सबक सिखा दिया है। एसडीएम नौतनवा मदन कुमार ने आरोपी लेखपाल रसीद अहमद को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है। नौतनवा तहसील में तैनात भ्रष्ट लेखपाल रसीद कुमार का बीते दिनों घूस लेने का यह वीडियो तेजी के साथ वायरल भी हुआ था। स्थानीय लोगों ने एसडीएम की इस कार्रवाई का स्वागत किया है।

यह भी पढ़ें: महराजगंज: प्रशासन ने फिर तोड़ी खनन माफियाओं की कमर, बालू ठेकेदारों में मची खलबली 

 

एसडीएम मदन कुमार की कार्रवाई का जनता ने किया स्वागत

यह भी पढ़ें: महराजगंज: तस्करों की काली करतूत जारी, वन विभाग ने बरामद की भारी बेशकीमती लकड़ियां 

इस चर्चित मामले में आरोपी लेखपाल ने अवैध कब्जा करने के आरोपी से रिश्वत लेकर केस को रफा-दफा करने की कोशिश की थी। स्थानीय लोगों में भ्रष्ट लेखपाल के खिलाफ भारी आक्रोश था। लोगों ने प्रशासन से इस मामले की शिकायत कर उचित कार्रवाई की गुहार लगाई थी।

निलंबन का आदेश

 

आखिरकार नौतनवा के एसडीएम ने तथ्यों का जांच में लेखपाल को दोषी पाया और सोमवार सुबर भ्रष्ट लेखपाल के निलंबन का फरमान जारी कर दिया। स्थानीय लोगों ने प्रशासन की इस कठोर कार्रवाई का स्वागत किया है।

यह भी पढ़ें: महराजगंज में त्योहारों को शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न कराने के लिये डीएम और एसपी ने की समीक्षा बैठक 

डाइनामाइट न्यूज़ से बातचीत में स्थानीय लोगों ने कहा कि घूसखोर और भ्रष्ट लेखपाल के खिलाफ एसडीएम की कार्रवाई सराहनीय है, इससे अन्य भ्रष्ट सरकारी कर्मचारियों औऱ अधिकारियों को भी सबक मिल सकेगा साथ ही पीड़ित का साथ इंसाफ भी हो सकेगा।   
 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार