अमेठी: राम मंदिर के निर्माण को लेकर साधु ने ली भूसमाधि, भक्तों से दिव्य दर्शन का वादा

डीएन संवाददाता

अयोध्या में रामलला के मंदिर निर्माण को लेकर शिव योगी संत श्री अभय चैतन्य महाराज मौनी बाबा ने तीन दिवसीय भूसमाधि ले ली है। बाबा के भूसमाधि लेने के बाद से यहां भजन-कीर्तन और पूजा-पाठ का दौर चल रहा है। डाइनामाइट न्यूज़ की खास रिपोर्ट..


अमेठी: अयोध्या में राम मंदिर निर्माण की मांग को लेकर शिवयोगी संत श्री अभय चैतन्य महाराज मौनी बाबा ने तीन दिन के लिये भू-समाधि ले ली है। भू-समाधि लेने से पूर्व बाबा द्वारा मंत्रोच्चार के साथ भगवान शिव की पूजा की गयी। इस मौके पर उनके कई शिष्य व आम जनता उपस्थित रही। बाबा ने तीन दिन बाद लौटकर दिव्य दर्शन का वादा किया है। 

 

शिवयोगी संत मौनी बाबा

 

गौरीगंज के बाबूगंज में स्थित सगरा आश्रम के पीठाधीश्वर के संत बाबा ने सोमवार को भू-समाधि ली। भू-समाधि लेने के बाद से ही समाधिस्थल पर दिव्य दर्शन के लिये लोगों की भारी भीड़ उमड़ रही है। 23 अगस्त को दिव्य दर्शन के मौके पर यहां बड़ी संख्या में भक्तों समेत आम जनता के पहुंचने की उम्मीद है। लोग समाधि स्थल के बाहर पूजा-अर्चना कर रहे हैं।

गौरतलब है कि बाल ब्रह्मचारी फलाहारी मौनी जी महाराज सावन के अंतिम सोमवार को जन कल्याण एवं रामलला मंदिर निर्माण हेतु 5:00 बजे शाम सगरा आश्रम पर 53वीं बार भू-समाधि में लीन हुए। जिसकी चारों ओर चर्चा हो रही है। वह बुधवार को भू-समाधि से बाहर आयेंगे। 
 













संबंधित समाचार