महराजगंज: 27 घंटे बाद शहीद जवान पंकज त्रिपाठी के घर पहुंचे प्रभारी मंत्री रमापति शास्त्री

आशीष सोनी/कार्तिकेय पांडेय

प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री ने खबर मिलते ही शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित की लेकिन महराजगंज जिले के प्रभारी मंत्री रमापति शास्त्री को शहीद जवान पंकज त्रिपाठी के घर पहुंचने में 27 घंटे लग गये। डीएम को 40 किमी का सफर तय करने में पूरे 24 घंटे लग गये। गुरुवार शाम 5 बजे ही यह खबर आम हो गयी थी जिले का एक लाल आतंकी हमले में शहीद हो गया है। फिर यह देरी क्यों? डाइनामाइट न्यूज़ एक्सक्लूसिव..


फरेन्दा (महराजगंज): महराजगंज जिले के फरेन्दा इलाके के हरपुर गांव पर शुक्रवार की देर रात तमाम नेताओं और अफसरों का जमघट लगा रहा। वजह थी इस गांव का लाल पंकज त्रिपाठी गुरुवार को कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले में शहीद हो गया था। 

गुरुवार की शाम को 5 बजे यह खबर आम हो गयी थी जिले का एक लाल आतंकी हमले में शहीद हो गया है। इसके बाद भी जिले के प्रभारी मंत्री रमापति शास्त्री को शहीद जवान पंकज त्रिपाठी के घर पहुंचने में 27 घंटे लग गये। वे शुक्रवार की रात 8 बजे शहीद के घर पहुंचे। इससे भी ज्यादा हैरान कर देने वाली बात तो ये है कि जनपद मुख्यालय पर बैठने वाले डीएम अमरनाथ उपाध्याय को 40 किमी का सफर तय करने में पूरे 24 घंटे लग गये। इसको लेकर आम जनता के मन में जिम्मेदारों के प्रति पीड़ा देखने को मिली। 

 

इधर डाइनामाइट न्यूज़ से बातचीत में प्रभारी मंत्री रमापति शास्त्री ने कहा शहीद जवान पंकज त्रिपाठी का बलिदान व्यर्थ नही जाये दिया जायेगा।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)










आपकी राय

Loading Poll …