DN Exclusive महराजगंज: हर मर्ज की दवा है इस हैंड पंप का पानी

डीएन संवाददाता

भारत-नेपाल सीमा पर स्थित नारायणी नदी के तट पर एक ऐसा भी हैंड पंप है जिसका पानी यहां के लोगों के लिये ‘अमृत’ है। इस पानी को पीने से कई मर्ज दूर हो जाते हैं, जिस कारण यहां पानी लेने वालों का हमेशा तांता लगा रहता है। डाइनामाइट न्यूज़ की एक्सक्लूसिव रिपोर्ट..

मौके पर पानी के लिए लगी भीड़
मौके पर पानी के लिए लगी भीड़

महराजगंज: भारत-नेपाल की सीमा पर सटे बैठवलिया गांव में नारायणी नदी के तट पर एक ऐसा चापाकल (हैंड पंप) लगा हुआ है, जिसके पानी के लिये यहां हर रोज दूर-दूर के लोग भारी संख्या में पहुंचते हैं। हैंड पंप का यह पानी किसी चमत्कार से कम नहीं है। स्थानीय लोगों का मानना है कि इस पानी को पीकर कई तरह की बीमारियां खासकर उदर संबंधी रोग नहीं होते है। यहां तक की यह पानी पथरी में भी बहुत लाभकारी है।

 

  

डाइनामाइट न्यूज़ टीम भी इस पानी के चमत्कार के चर्चों को सुनकर मौके पर पहुंची। नारायणी नदी के तट पर बने इस हैंड पंप पर कई लोग मौजूद थे जो दूर-दूर से यहां इस पानी को लेने के लिये पहुंचे थे। पानी भरने के लिये लोगों में मची होड़ को देखकर सहज अंदाजा लगाया जा सकता है कि यह पानी वास्तव में कुछ खास जरूर है।

 

 

यहां मौजूद लोगों ने डाइनामाइट न्यूज़ को बताया कि इस पानी को लेने के लिये यहां हमेशा आस-पास व गोरखपुर समेत दूर-दराज के गाँवों से लोग आते है। पेट संबंधी बीमारी से ग्रस्त लोगों के लिये यह पानी अमृत की तरह है, जिसे पीने का बाद रोग ठीक हो जाते हैं। साथ ही लोगों का यह भी मानना है कि इस पानी से पथरी संबंधित बीमारियों में बहुत लाभ मिलता है।

 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)











आपकी राय

Loading Poll …