DN Exclusive: महराजगंज निकाय चुनाव, विकास के नाम पर छली गयी जनता फिर वोट देने को तैयार

डीएन संवाददाता

उत्तर प्रदेश के निकाय चुनावों को लेकर डाइनामाइट न्यूज़ हर दिन शहर के अलग-अलग वार्डों की चुनावी तस्वीर.. ताजा विश्लेषण के साथ आप तक पहुंचा रहा है। इस कड़ी में आज डाइनामाइट न्यूज़ की चुनावी टीम पहुंची है- महराजगंज के अशोक नगर मोहल्ले में। जानिये क्या है वहां के चुनावी समीकरण, जनता का रूझान और प्रत्याशियों के सामने चुनौतियां..

महाराजगंज: जिले में निकाय चुनाव की सरगर्मियां तेजी से बढ़ती जा रही हैं। सभासद के दावेदारों ने वोट के लिये ग्रामीणों को लुभाना शुरू कर दिया है। हर उम्मीदवार चुनाव में जीतने के लिये कोई कसर नहीं छोड़ने चाहता है। चुनावी लड़ाई भले ही प्रत्याशियों के बीच हो, लेकिन इस चुनावी मुकाबले में सबसे बड़ी भूमिका जनता को निभाना है। उम्मीदवारों को जिताकर सत्ता तक पहुंचाने की चाभी भी जनता के पास ही है। डाइनामाइट न्यूज़ हर दिन शहर के अलग-अगल वार्डों की चुनावी तस्वीर ताजा विश्लेषण के साथ आप तक पहुंचा रहा है। इस कड़ी में आज डाइनामाइट न्यूज़ की चुनावी टीम पहुंची है- अशोक नगर वार्ड नंबर 5 में।

यह भी पढ़ें: DN Exclusive: महराजगंज निकाय चुनाव, प्रत्याशियों पर भरोसा नही कर पा रही है जनता

 

यह भी पढ़ें: महराजगंज: सानंदन पटेल ने डाले हथियार, अध्यक्ष के 16, सभासद के 29 प्रत्याशियों ने लिये पर्चे वापस

अशोक नगर मोहल्ले का चुनावी परिदृश्य

1) आरक्षण स्थिति- सामान्य  (अनारक्षित)
2) जनसंख्या- 1200-1300
3) मतदाता- 825
4) चुनाव लड़ने वाले कुल प्रत्याशी- 05
5) वर्तमान सभासद- गामा प्रसाद
5) सबसे बड़ी समस्या: बिजली-पानी और साफ-सफाई

 

 

यह भी पढ़ें: DN Exclusive: महराजगंज निकाय चुनाव में खुल रही है पुराने नेताओं की पोल

 

अशोक नगर पर एक नजर

अशोक नगर जनपद मुख्यालय का एक घनी आवादी वाला प्रमुख वार्ड है। अशोक नगर को पिछड़े क्षेत्रों के वॉर्डों में गिना जाता है। भले ही यहां की जनसंख्या कम है, लेकिन जनसंख्या का घनत्व ज्यादा है। यहां एक मिश्रित समाज रहता है, जिसमें पढ़े-लिखे लोगों से लेकर अमीर, गरीब और पिछड़े हर तरह के लोग शामिल हैं। अशोक नगर वार्ड से 5 प्रत्याशी चुनाव मैदान में है। सभी प्रत्याशी वार्ड के विकास के नाम पर जनता से वोट मांग रहे हैं। 

 

 

यह भी पढें: महराजगंज: कृष्ण गोपाल ने सांसद की मौजूदगी में भरा पर्चा, बागी राजेश ने बढ़ायी मुसीबत

बुरी और दयनीय स्थिति

डाइनामाइट न्यूज़ की चुनावी टीम जब अशोक नगर में पहुंची तो देखने को मिली एक घनी आबादी। गांव के लोग बुरी और दयनीय स्थिति में जीने को मजबूर हैं। व़ॉर्ड की यह स्थिति पिछले जनप्रतिनिधियों के उस विकास के दावे और वादों की पोल खोलती दिखायी दी, जो उन्होंने चुनावों के समय यहां की जनता के साथ किये थे। वॉर्ड में बिजली, पानी और नालों की स्थिति पूरी तरह जर्जर नजर आई। बिजली की पोलों पर तारे झूलते नजर आए।

 

 नगरपालिका की तरफ से कोई ब्यवस्था नहीं

डाइनामाइट न्यूज़ टीम ने जब जनता से बातचीत की पता चला कि सभी प्रत्याशी चुनाव के दौरान अनेक घोषणाएं करते हैं और चुनाव के बाद 5 सालों तक कहीं नजर नहीं आते। कोई भी जनप्रतिनिधि वार्ड की सुध लेने नहीं आता। यही कारण है कि यहां नालियां महीनों में कभी-कभी ही साफ होती हैं। कूड़ा फेंकने के लिए न तो कोई डस्टबिन जनता को उपलब्ध कराई गयी है और न ही नगरपालिका की गाड़ी कूड़ा लेने आती है।

 

 

 

बात करने से कतराते जनप्रतिनिधि

डाइनामाइट न्यूज़ टीम ने जब जनता के बीच जाकर वार्ड से सभासद रह चुके जनप्रतिनिधियों से बात करने का प्रयास किया तो सभी संवाद करने से कतराते रहे। अशोक नगर के निवर्तमान सभासद फिर इस चुनावी दंगल में शामिल है। हमारी टीम ने जब उनसे बात करने की कोशिश की तो उन्होंने कहीं बाहर होने की बात करके बातचीत का हिस्सा बनने से मना कर दिया। 

 

सड़कों की लाइटें सालों से बंद

अशोक नगर के बुजुर्गों ने बताया कि उनके घरों की तरफ साफ-सफाई आज तक हुई ही नहीं है। सभी सड़कों लाइटें सालों से बंद पड़ी हैं। जिससे शाम ढ़लते ही लोग इधर-उधर आने-जाने से डरते है। अंधेरे का कारण अपराधिक वारदातों का खतरा हमेशा बना रहता है। जिस को कई वर्षों से जनप्रतिनिधि झांकने नजर नहीं आए।

 

विवश जनता वोट देने को फिर तैयार

   कुल मिलाकर अशोक नगर की जनता बेहाल है और कई समस्याओं से जूझ रही है। जनसुविधाओं के लिये मोहताज जनता की सुध लेने वाला कोई नहीं है, जबकि जनता के दर पर हर साल वोट मांगने वालों की कतार लगी रहती है। अब निकाय चुनाव बेहद करीब है। वोट मांगने वाले फिर एक बार लोकलुभावन वादों के साथ जनता का विश्वास जीतने में लगे हुए हैं। हालात देखकर लगता है कि विकास और विश्वास के नाम पर जनता फिर एक बार छली जायेगी, क्योंकि जनता पिछले कई वर्षों से विकास के नाम पर ही वोट दे रही है। विकास कब होगा ये तो पता नहीं, पर जनता वोट देने को फिर तैयार और विवश जरूर दिखती है।

(डाइनामाइट न्यूज़ पर आपको महराजगंज नगर पालिका चुनाव से जुड़ी हर एक खबर सबसे पहले मिलेगी। नि:शुल्क मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए 9999 450 888 पर मिस्ड काल करें)

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)







आपकी राय

#DNPoll क्या सीबीएफसी के अनुमोदन बिना फिल्म पद्मावती की प्राइवेट स्क्रीनिंग उचित है?