लखनऊ: पहली सालगिरह पर थोड़ी देर में योगी पेश करेंगे सरकार का रिपोर्ट कार्ड

डीएन ब्यूरो

यूपी की योगी सरकार राज्य में ताजपोशी के एक साल पूरे होने के उपलक्ष्य में आज अपनी सालगिरह मना रही है। यह सालगिरह ठीक ऐसे समय पर आयी है, जब सरकार को यूपी की दो लोकसभा सीटों पर हुए उपचुनाव में करारी हार का सामना करना पड़ा।

यूपी सीएम योगी (फाइल फोटो)
यूपी सीएम योगी (फाइल फोटो)

लखनऊ: यूपी की योगी सरकार राज्य में अपना ताजपोशी के एक साल पूरे होने के उपलक्ष्य में आज अपना सालगिरह मना रही है। यह सालगिरह ठीक ऐसे समय पर आयी है जब सरकार को यूपी की दो लोकसभा सीटों पर हुए उपचुनाव में करारी हार का सामना करना पड़ा। बहरहाल, सरकार अबसे थोड़ी देर बाद राजधानी के लोक भवन के एक शानदार कार्यक्रम का आयोजन करने जा रही है, जिसमें सरकार अपनी एक साल की उपलब्धियों को बतायेगी।

एक साल पूरे होने के उपलक्ष्य में आयोजित होना जा रहे कार्यक्रम के लिये योगी सरकार एक नया स्लोगन 'एक साल नई मिसाल'  भी तैयार किया है। इसके अलावा इस मौके पर एक वीडियो और पुस्तिका भी जारी की जानी है, जिसमें सरकार की एक साल की उपलब्धियों को दर्शाया जायेगा।

इस मौके पर सरकार अपने इस आयोजन में कोई कमी नहीं छोड़ना चाहती है। अबसे थोड़ी देर बाद सीएम योगी अपनी सरकार का एक साल का लेखा-जोखा  भी जनता के सामने रखने जा रहे हैं।

गौरतलब है कि 19 मार्च 2017 को मुख्यमंत्री को आज के दिन ही भारतीय जनता पार्टी की तरफ से यूपी के मुख्यमंत्री का ताज योगी आदित्यनाथ के सर पर सजा था। बीजेपी ने तत्कालीन विधान सभा चुनावों में 80 में से 71 सीटें जीतकर राज्य में पहली बार प्रचंड बहुमत प्राप्त किया था। सीएम बनने के कारण योगी को अपनी गोरखपुर और उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य को फूलपुर लोकसभी सीट से त्याग पत्र देना पड़ा। लगभग एक साल बाद इन दोनो लोकसभा सीटों पर हुए उपचुनाव में भाजपा को अपनी धुर विरोधी सपा से करारी हार झेलकर दोनो सीटें गंवानी पड़ी। इसे संयोग ही कहा जा सकता है इस करारी हार के बीच ही योगी सरकार की पहली वर्षगांठ आयी है।  













संबंधित समाचार