भाजपा के दबाव में मतगणना अधिकारियों ने भी धांधली की: सपा

डीएन संवाददाता

समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता राजेंद्र चौधरी ने यूपी निकाय चुनाव में भाजपा पर राज्य की जनता को गुमराह करने का आरोप लगाते हुए कहा कि मतगणना में अधिकारियों ने भी भाजपा के दबाव में आकर धांधली की।

लखनऊ में मीडिया से बात करते सपा नेता राजेंद्र चौधरी
लखनऊ में मीडिया से बात करते सपा नेता राजेंद्र चौधरी

लखनऊ: समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता राजेंद्र चौधरी ने यूपी निकाय चुनाव में भाजपा पर राज्य की जनता को गुमराह करने का आरोप लगाते हुए कहा कि मतगणना में अधिकारियों ने भी भाजपा के दबाव में आकर धांधली की।

सपा ने कहा कि यूपी निकाय चुनाव में भाजपा ने झूठ बोलकर राजनीतिक मर्यादा का भी उल्लंघन किया और इसी आधार पर जीत दर्ज की। भाजपा पर सत्ता का दुरुपयोग करने का आरोप लगाते हुए सपा ने कहा कि बीजेपी ने इस चुनाव में जनता को कई प्रलोभन दिये। सपा ने फिर एक बार ईवीएम से चुनाव न कराकर बैलेट पेपर से मतदान कराने की मांग की है।

राजेंद्र चौधरी ने कहा कि भाजपा सरकार में किसानों को उनकी उपज का दाम नहीं मिल पा रहा है। उन्होंने बताया कि सीएम योगी ने गन्ना किसानों के उपज का दाम ₹10 प्रति कुंतल बढ़ाने की बात कही थी। जबकि सपा सरकार में गन्ना किसानों को ₹325 प्रति कुंतल तक भुगतान किया जाता था। जबकि आज गन्ना किसानों को ₹90 से लेकर ₹150 तक में अपने गन्ने को क्रेशर मालिकों को बेचना पड़ा है। जिससे उनकी कमर टूट रही है। उन्होंने भाजपा पर आरोप लगाते हुए कहा कि आज नया प्याज बाजार में आने वाला है। इसी बीच सरकार ने विदेशी प्याज आयात करने के निर्देश जारी कर दिए हैं।

प्रेस कांफ्रेंस के दौरान सपा प्रदेश अध्यक्ष ने योगी सरकार पर हमला करते हुए कहा कि आज राजधानी लखनऊ के मुख्यमंत्री चौराहे से लेकर हजरतगंज चौराहे तक लंबा जाम लगता है। सुबह और शाम के समय भीषण जाम का लोगों को सामना करना पड़ता है। उन्होंने केंद्र सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि जब केंद्र में भाजपा की सरकार बनी थी। तब उन्होंने हर साल 2  करोड़ रोजगार उपलब्ध कराने की बात कही थी। जबकि आज लगभग अपने 4 साल के शासन काल में भी 2 करोड़ रोजगार नहीं उपलब्ध करा पाए हैं। 

उन्होंने सीएम योगी पर युवाओं, किसानों-मजदूरों को गुमराह कर वोट हासिल करने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा की सीएम सहित उनके मंत्री लगातार यूपी के दौरे पर रहे इस दौरान यूपी की पूरी प्रशासनिक मशीनरी चौपट हो गई। अधिकारियों के पास कोई काम नहीं था। वहीं उन्होंने कहा कि नगर निकाय चुनाव में भाजपा की तथाकथित जीत की बड़ी वजह यह रही की अधिकारियों ने इनके आदेशों पर मतपेटियां बदलवा दी। 
 

 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)








संबंधित समाचार