लखनऊ: संविधान का निरादर करने वालों के खिलाफ उग्र प्रदर्शन, कहा- सख्त कार्यवाही करे सरकार

डीएन संवाददाता

संविधान का निरादर करने वाले लोगों के खिलाफ कार्रवाई की मांग को लेकर यहां जोरदार प्रदर्शन और नारेबाजी की गयी। इस प्रदर्शन में समाजवादी पार्टी अनुसूचित जाति-जनजाति प्रकोष्ठ के नेता भी समर्थन देने पहुंचे। पूरी खबर..


लखनऊ: 'आरक्षण बचाओ-देश बचाओ' संस्था के बैनर तले लखनऊ में आरक्षण समर्थकों ने आरक्षण विरोधियों के खिलाफ जमकर नारेबाजी कर उग्र प्रदर्शन किया। इस प्रदर्शन में समाजवादी पार्टी के नेता भी पहुंचे और भाजपा सरकार से संविधान समेत आरक्षण का निरादर और विरोध करने वाले लोगों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही की मांग की।

यह भी पढ़ें: लखनऊ: पुलिस के आचरण पर लगा बट्टा, देखें..सड़क पर ट्रैफिक सिपाही की खुलेआम रिश्वतखोरी

 

आरक्षण समर्थकों का आरोप है कि बीते 9 अगस्त को दिल्ली के जंतर मंतर पर हुए एक प्रदर्शन के दौरान कुछ असामाजिक लोगों ने आरक्षण और एससी/एसटी एक्ट के खिलाफ विरोध प्रदर्शन के दौरान संविधान का अपमान किया है और इस मौके पर वहां मौजूद पुलिस तमाशबीन बनी रही।

यह भी पढ़ें: लखनऊ: यूपी एसटीएफ ने मौत के सौदागर को किया गिरफ्तार, कई मौतों के मामले में था वांछित

मामले में बातचीत करते हुए प्रदर्शनकारी नेता डॉक्टर पवन राव अंबेडकर ने बताया कि दिल्ली के जंतर मंतर पर हुए प्रदर्शन के दौरान आरक्षण विरोधियों ने एससी/एसटी एक्ट के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान संविधान और देश का अपमान किया है। ऐसे में इनकी पहचान कर केंद्र सरकार को नागरिकता समाप्त करनी चाहिए। जिससे आगे इस तरह की कोई भी कार्यवाही न हो।













संबंधित समाचार