UP ATS के दिवंगत एएसपी राजेश साहनी की आत्महत्या प्रकरण में बैठक, पीपीएस अफसरों में जबरदस्त आक्रोश

डीएन संवाददाता

उत्तर प्रदेश एटीएस के एडिशनल एसपी राजेश साहनी की संदिग्ध आत्महत्या के बाद लखनऊ में पीपीएस अधिकरियों की बैठक चल रही है, इस बैठक में अफसरों में इस मामले को लेकर काफी आक्रोश देखा जा रहा है। पूरी खबर..


लखनऊ: यूपी एटीएस के जांबाज और कर्मठ अधिकारी राजेश साहनी की संदिग्ध खुदकुशी के बाद राज्य की राजधानी में पीपीएस एसोसिएशन के पदाधिकारियों की एक बड़ी बैठक जारी है। इस बैठक में पीपीएस अधिकारियों को जहां उनके बीच अपने एक काबिल और चहेते अफसर के न होने का मलाल है, वहीं इस संदिग्ध मामले को लेकर एसोसिएशन के पदाधिकारियों व सदस्यों में काफी आक्रोश भी है।

यह भी पढ़ें: क्या आत्महत्या के लिए यूपी एटीएस के एएसपी राजेश साहनी को किसी ने किया मजबूर?

इस बैठक से पहले लखनऊ के पुलिस ऑफिसर्स मेस में यूपी एटीएस के दिवंगत राजेश साहनी की याद में एक शोकसभा का आयोजन किया गया, जिसमें बड़ी संख्या में आईपीएस और पीपीएस अधिकारी मौजूद रहे। 

राजेश साहनी सुसाइड केस में बुधवारे शाम को एडीजी लखनऊ जोन को जांच के दिए आदेश दिये गये है और जल्द रिपोर्ट सौंपने को कहा गया है।

यह भी पढ़ें: लखनऊ: राजकीय सम्मान और नम आंखों के साथ जांबाज अफसर राजेश साहनी को दी गयी अंतिम विदायी 

पीपीएस एसोसिएशन के पदाधिकारी समेत दिवंगत राजेश साहनी के करीबी मित्र भी इस आत्महत्या को काफी संदिग्ध मान रहे है।

यह भी पढ़ें: राजेश साहनी के मित्र और वरिष्ठ पत्रकार विनोद कापड़ी डाइनामाइट न्यूज़ से बोले- सुसाइड केस संदिग्ध, CBI जांच से होगा राजफाश 

उनका मानना है कि साहनी एक जिंदादिल इंसान थे, उनकी लाइफ भी काफी ज्वॉयफुल थी, ऐसे में उनका आत्महत्या जैसा कदम उठाना सवालों के घेरे में है। 

 













संबंधित समाचार