लखनऊः रोडवेज व निजी कंपनियों में नौकरी का झांसा देकर लूटने वाला मास्टरमाइंड गिरफ्तार

डीएन ब्यूरो

रोडवेज समेत कई निजी कंपनियों में अपनी जान-पहचान बताकर सैंकड़ों युवाओं को नौकरी का झांसा देने वाले एक मास्टर माइंड को लखनऊ साइबर क्राइम सेल द्वारा दबोचा गया। कैसे बेरोजगार युवाओं को फंसाता था गिरफ्तार आरोपी..पढें डाइनामाइट न्यूज़ की यह रिपोर्ट


लखनऊः बेरोजगार युवाओं को यूपी रोडवेज व दूसरी निजी कंपनियों में नौकरी दिलाने के नाम पर ठगी करना वाले एक शख्स को लखनऊ साइबर क्राइम सेल ने गिरफ्तार किया है। साइबर क्राइम सेल के नोडल इंचार्ज अभय मिश्रा ने मामले की जानकारी देते हुए बताया कि दुर्गेश कुमार शर्मा नाम का शातिर युवक यूपी राज्य सड़क परिवहन निगम और पतंजलि आयुर्वेद जैसी संस्था में नौकरी दिलाने के नाम पर फर्जी तरीके से नियुक्तियों का विज्ञापन अखबारों में निकालता था। वह अब तक लाखों की ठगी कर चुका है।

यह भी पढ़ेंः लखनऊ: युवकों को सरेआम लाठी डंडों से पीटने के मामले में तीन आरोपी गिरफ्तार  

आरोपी के साथ मामले की जानकारी देते साइबर क्राइम सेल के इंचार्ज अभय मिश्रा  

पुलिस द्वारा हिरासत में लिये गये शातिर दुर्गेश कुमार शर्मा ने बताया कि वह लखनऊ, गोरखपुर, वाराणसी, इलाहाबाद मंडल में हजारों लोगों को वह अपनी ठगी का शिकार बनाकर लाखों रुपए हड़प चुका है। इस संबंध में लखनऊ की साइबर क्राइम सेल को रोडवेज प्रबंधक ने ठगी का गिरोह चलाने वाले छात्रों के बारे में जानकारी दी थी।  

यह भी पढ़ेंः नोएडा में बैंक लूटने पहुंचे बैखौफ बदमाशों ने दो गार्डों की कर डाली हत्या, क्षेत्र में भारी दहशत

जिस पर साइबर क्राइम सेल ने जब पूरे मामले की पड़ताल की तो तब जाकर एक आरोपी को गिरफ्तार किया जा सका। मामले में सबसे खास बात यह है कि गिरफ्तार शातिर दुर्गेश कुमार शर्मा ने केवल 12वीं तक पढ़ाई की है। इसके बाद इसने पढ़ाई छोड़ दी और ठगी करके वह बेरोजगार युवकों को अपना शिकार बनाने लगा।
 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार